एक ही परिवार के तीन सदस्यों की गोली और धारदार हथियार से की हत्या hatya Aajtak24 News

 

एक ही परिवार के तीन सदस्यों  की गोली और धारदार हथियार से की हत्या hatya Aajtak24 News 

दमोह - जिले में तिहरे हत्याकांड की जानकारी सामने आने के बाद सनसनी के हालात बन गए और मामले की गंभीरता को देख पुलिस महकमे के आला अधिकारी मौके पर पहुंचकर मामले की जांच में जुट गए हैं। सामने आ रही जानकारी अनुसार देहात थाना के ग्राम बांसा में इस तिहरे हत्याकांड को अंजाम दिया गया है, जिसमें विश्वकर्मा परिवार के तीन लोगों की मौत हो गई है। हत्यारों ने जहां दो युवकों की हत्या गोली मारकर की है वहीं तीसरे व्यक्ति की हत्या धार-धार हथियारों से किया जाना सामने आ रहा है और घटना के पीछे कुछ दिन पूर्व हुआ पारिवारिक विवाद ही सामने आ रहा है।  प्राप्त जानकारी अनुसार ग्राम बांसा में कुछ दिन पूर्व विश्वकर्मा परिवार के दो पक्षों  के बीच बछड़े पर गाड़ी चढ़ जाने को लेकर विवाद हुआ था और उसके बाद से ही दोनों पक्षों में रंजिश की स्थिति बनी हुई थी। सोमवार की सुबह घर से कोचिंग जाने के लिए बाइक पर निकले दो युवक विक्की पिता रवि विश्वकर्मा 24 वर्ष,  उम्मू उर्फ उमेश पिता रमेश विश्वकर्मा 23 वर्ष निवासी बांसा को बीच सड़क पर कुछ लोगों द्वारा गोलियां मार दी गई जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई वहीं घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी मृतक के घर भी पहुंचे और वहां पर भी उनके द्वारा फायर किए गए इसी के तत्काल बाद तीन आरोपी होमगार्ड सैनिक के रूप में कार्यरत रमेश पिता रामगोपाल विश्वकर्मा उम्र 50 वर्ष के घर पहुंचे और धारदार हथियार से उसके गले पर गंभीर चोटे पहुंचाई जिससे उसकी भी मौके पर ही मौत हो गई। तीन हत्या ऑन को अंजाम देने के बाद आरोपी मौके से फरार हो गए। 

आधा दर्जन से अधिक है आरोपी 

मामले के संबंध में मृतक रमेश के भांजे राहुल विश्वकर्मा ने बताया की घटना को आठ लोगों ने अंजाम दिया है जिसमें राजा विश्वकर्मा, सजल विश्वकर्मा ,गोलू विश्वकर्मा, राजेंद्र विश्वकर्मा, केशव विश्वकर्मा, नत्थू विश्वकर्मा, रघुनंदन विश्वकर्मा और रोशन विश्वकर्मा शामिल है जिनके द्वारा बीच रास्ते पर उसके भाइयों को गोली मार दी गई। वहीं इन्हीं आरोपियों में से तीन लोग राजा,गोलू और रोशन ने उसके मामा के घर जाकर उनकी हत्या कर दी। पीड़ित परिवार की माने तो कुछ दिन पूर्व गाय के बछड़े पर गाड़ी चल जाने को लेकर दोनों पक्षों में विवाद हुआ था और उनके बीच मारपीट भी हो गई थी और उसके बाद ही इस घटना को अंजाम दिया गया है। 

मौके पर मिले कारतूस और कट्टा 

बीच रास्ते और घर में घुसकर अंजाम दिए गए हत्याकांड को लेकर क्षेत्र में दहशत का माहौल है, जहां आरोपियों द्वारा बीच रास्ते में बाइक सबार को जब गोलियां मारी गई तो वहां आसपास गोलियों के निशान और खाली कारतूस पुलिस को मिले हैं। दूसरी और  घर में कुछ घुसकर की गई होमगार्ड सैनिक की हत्या में भी मौके पर कट्टा मिलने की जानकारी सामने आ रही है। मामले को लेकर पुलिस अधीक्षक श्रुतकीर्ति सोमवंशी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संदीप मिश्रा, देहात थाना प्रभारी आरएस बागरी सहित कोतवाली थाना प्रभारी आनंद सिंह ठाकुर पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और परिजनों के बयानों सहित मौके से साक्ष का संकलन किया जा रहा है और मौके पर डॉग स्क्वॉड और फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट को भी बुलाया गया है।

परिजनों ने बिल्डर पर भी लगाया आरोप

वहीं को लेकर परिजनों ने जिले के एक बिल्डर पर भी गंभीर आरोप लगाए हैं। दरअसल इस घटना की कड़ी जिस विवाद से जुड़ी हुई है, उसमें बिल्डर राकी सुरेखा का नाम भी शामिल है । पूर्व का विवाद कुछ दिन पूर्व बिल्डर्स रॉकी सुरेखा की गाड़ी बांसा  के समीप एक गाय के बछड़े पर चढ़ जाने को लेकर था जिसमे मारपीट की गई थी। वहीं आरोपियों में एक नाम उक्त बिल्डर्स के वाहन चालक का भी है। मामले में मृतक के परिजनों ने आरोप लगाए है कि बिल्डर्स द्वारा ही आरोपियों को हथियार दिए गए है। हालाकि पुलिस फिलहाल इस मामले में कुछ भी कहने से बच रही है।

एक ही परिवार के हैं तीनों मृतक 

घटना में जिन तीन लोगों की मौत हुई है बाय एक ही परिवार की है जिसमें होमगार्ड सैनिक रमेश विश्वकर्मा, उसके पुत्र उमेश विश्वकर्मा और उसके भतीजे विकास उर्फ विक्की विश्वकर्मा की हत्या की गई है वहीं दूसरी ओर आरोपी पक्ष में परिवार से ही जुड़ा बताया जा रहा है। पुलिस द्वारा आरोपियों की तलाश शुरू कर दी गई है। दोपहर में तीनों शव जिला अस्पताल भेजें गये जहां से पोस्टमार्टम घर भेजें गये और पोस्टमार्टम कर सभी शव परिजनों के सुपुर्द किए गए।


Comments

Popular posts from this blog

पंचायत सचिवों को मिलने जा रही है बड़ी सौगात, चंद दिनों का और इंतजार intjar Aajtak24 News