पत्रकारों का जीवन चुनौतीपूर्ण है, बहुत कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है - राजाराम त्रिपाठी tripathi Aajtak24 News


पत्रकारों का जीवन चुनौतीपूर्ण है, बहुत कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है - राजाराम त्रिपाठी tripathi Aajtak24 News 

जांजगीर चांपा -  छत्तीसगढ़ जर्नलिस्ट यूनियन का प्रादेशिक पत्रकार सम्मेलन एवं सम्मान समारोह रविवार क़ो होटल अमित पार्क इंटरनेशनल भिलाई मे सम्पन्न हुआ. जिसमे प्रदेश भर के विभिन्न जिलों के पत्रकार शामिल हुए. लम्बे समय से पत्रकारिता मे संलग्न पत्रकारों का विशेष रूप से सम्मान किया गया. कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता एवं जनसंचार विश्वविद्यालय के कुलपति बलदेव भाई शर्मा थे. अध्यक्षता अखिल भारतीय किसान महासंघ के राष्ट्रीय संयोजक डॉ राजाराम त्रिपाठी ने किया. विशेष अतिथि के रूप मे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दुर्ग अभिषेक झा एवं कल्याण महाविद्यालय के हिंदी विभाग अध्यक्ष डॉ सुधीर शर्मा उपस्थित थे। कार्यक्रम में अलग अलग क्षेत्रों में उत्कृष्ठ कार्य करने वालों को सम्मानित किया गया जिसमे कुलवंत सिंह सलूजा, शैलेश शर्मा, डॉ. मूलचन्द गुप्ता, विक्रम तिवारी, विवेक शर्मा, गौरव गुप्ता, रामखिलावन यादव, अशोक अग्रवाल, चेतन साहू, श्रीमती रेखा गुप्ता, श्रीमती रूपा कुर्रे, श्रीमती वर्षा मोटे सहित अन्य प्रतिभाशालियों को भी सम्मानित किया गया। छत्तीसगढ़ जर्नलिस्ट यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष एवं समस्त पदाधिकारियों के नेतृत्व मे यह आयोजन सम्पन्न हुआ. जिसमे कुलपति बलदेव भाई शर्मा ने सभी पत्रकारों क़ो सम्बोधित करते हुए कहा कि पत्रकार का जीवन चुनौतीपूर्ण रहता है. छत्तीसगढ़ मे कई दुर्गम इलाके मे पत्रकार रहते हैं कई बार उनके जीवन मे संकट आ जाता है. पत्रकार क़ो आम आदमी की आवाज़ बने रहना चाहिए. ज़ब आदमी बहुत परेशान हो जाता है, शासन प्रशासन ध्यान नही देता है तब पत्रकार के जरिये ही जनता की आवाज पहुंचाई जा सकती है. जनता की हिम्मत पत्रकार बनते हैँ इस ताकत क़ो सभी पत्रकारों क़ो बनाये रखना हैँ. जनता के बीच चौथा स्तम्भ के रूप मे पत्रकारों क़ो सम्मानित किया जाता है, यह विश्वास और सम्मान बरकरार रखना है. सभी पत्रकार अपने अपने इलाकों मे विभिन्न समस्याओं से जूझते हैं ऐसा अवसर कभी कभार मिलता हैं ज़ब सभी एक साथ इकठ्ठा हों, इस हिसाब से यह सम्मेलन महत्वपूर्ण आयोजन है. कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे भारत को अपने किसानी प्रतिभा के बल पर अंतराष्ट्रीय मंच पर पहुंचाने वाले अखिल भारतीय किसान महासंघ के राष्ट्रीय संयोजक डॉ राजाराम त्रिपाठी ने कहा की उन्होंने सबसे पहले शुरुआत पत्रकारिता से ही की थी परन्तु बाद मे खेती किसानी का व्यवसाय अपना लिया. पत्रकारों का जीवन चुनौतीपूर्ण है बहुत कठिनाई आती है जिससे जूझते हुए जो आगे बढ़ता है वह सफलता प्राप्त करते है. विशेष अतिथि के रूप मे डॉ सुधीर शर्मा ने भी पत्रकारिता एवं वर्तमान चुनौती पर विस्तृत वर्णन किया,कार्यक्रम मे प्रदेश भर से 300 से अधिक पत्रकारगण शामिल हुए।



Comments

Popular posts from this blog

कलेक्टर दीपक सक्सेना का नवाचार जो किताबें मेले में उपलब्ध वही चलेगी स्कूलों में me Aajtak24 News

पुलिस ने 48 घंटे में पन्ना होटल संचालक के बेटे की हत्या करने वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार girafatar Aaj Tak 24 News

कुल देवी देवताओं के प्रताप से होती है गांव की समृद्धि smradhi Aajtak24 News