ओलावृष्टि और बेमौसम बारिश से हुए फसल नुकसान का आंकलन करने पहुँचें कलेक्टर collector Aaj Tak 24 News


ओलावृष्टि और बेमौसम बारिश से हुए फसल नुकसान का आंकलन करने पहुँचें कलेक्टर  collector Aaj Tak 24 News 

बेमेतरा - पिछले तीन -चार दिन से ज़िले में बेमौसम अलग-अलग हिस्सों में हुई बारिश और ओलावृष्टि का सीधा असर फसलों पर पड़ा है। फसलों की तबाही में अन्नदाताओं के चेहरों पर शिकन ला दी है। ज़िला प्रशासन ने भी किसानों के हुए इस नुकसान का आकलन करने और फसल बीमा मुआवजा देने की प्रक्रिया शुरू करने के लिए निर्देश दिए गए हैं। कलेक्टर श्री रणबीर शर्मा आज स्वयं ज़िले के ग्राम हथगुड़ी और  डुंडा प्रभावित किसानों के खेत पहुँचें। कलेक्टर श्री शर्मा ने खेत में जाकर फसलों का अवलोकन किया और प्रभावित किसानों से भी  बात की। उन्होंने किसानों से कहाँ कि फसल बीमा की राशि मिलेगी। उन्होंने रबी फसल चना, गेंहू और तिवरा की खड़ी और कटी फसल को देखा। उन्होंने फसल बीमा कंपनी के कर्मचारियों को निर्देश दिए गए हैं कि हर पंचायतवार सर्वे कर फसल के नुकसान का आकलन तैयार करें और उसी आधार पर किसानों को बीमा का मुआवजा दिया जाएगा। अपर कलेक्टर डॉ. अनिल बाजपेयी, एसडीएम, घनश्याम तवर, उप संचालक कृषि श्री मोरध्वज डड़सेना सहित तहसीलदार श्री परमानंद बंजारे उपस्थित थे।  पिछले तीन दिनों से  के अलग-अलग हिस्सों में हो रही बारिश और ओलावृष्टि की वजह से एक तरफ जहां तापमान में काफी गिरावट आ गई है. वहीं दूसरी तरफ इसका सीधा असर फसलों पर पड़ा है. तेज हवाओं के साथ हुई बारिश और ओलावृष्टि की वजह से गेहूं,  चना और तिवरा की फसलों को काफी नुकसान पहुंचा है ।  कलेक्टर श्री रणबीर शर्मा ने पत्रकारों से चर्चा में कहा अचानक हुई बारिश और ओलावृष्टि ने कहर बरपाया है. जिससे जिले के कई गांवों में खेतों में खड़ी फसलें पूरी तरह बर्बाद हो गयी है। बारिश और ओलावृष्टि से फसलों को काफी नुकसान हुआ है। इसके अलावा उद्यानकी फसलें भी ज़िले में केला और पपीता को भी नुक़सान हुआ हैं। जिससे किसान परेशान और चिंतित हैं। उन्होंने कहा कि  कि इससे फसलों के उत्पादन के साथ-साथ गुणवत्ता पर भी असर पड़ने की आशंका है। उन्होंने कहा कि राज्य शासन को  लगभग 62.50 करोड़ का  एस्टीमेट बनाकर भेजा है। जिन किसानों के फसल बीमा है। उन्हें 37 हज़ार 500 रुपये प्रति हेक्टेयर मिलेगा। इसके अलावा कुछ किसानों की प्रकरण आरबीसी 6 (4) में भी बनेगा। 


Collector arrives to assess crop damage caused by hailstorm and unseasonal rain

Bemetara - Unseasonal rain and hailstorm in different parts of the district for the last three-four days has had a direct impact on the crops. The destruction of crops has brought wrinkles on the faces of food providers. The district administration has also been instructed to assess the loss suffered by the farmers and start the process of providing crop insurance compensation. Collector Shri Ranbir Sharma himself reached the fields of affected farmers of village Hathguri and Dunda of the district today. Collector Shri Sharma visited the fields and inspected the crops and also talked to the affected farmers. He told the farmers that they will get crop insurance amount. He saw the standing and harvested crops of Rabi crops gram, wheat and tiwara. He has instructed the employees of the crop insurance company to conduct every panchayat-wise survey and prepare an estimate of the crop loss and on the same basis, insurance compensation will be given to the farmers. Additional Collector Dr. Anil Bajpayee, SDM, Ghanshyam Tawar, Deputy Director Agriculture Mr. Mordhwaj Dadsena along with Tehsildar Mr. Parmanand Banjare were present. On one hand, due to rain and hailstorm in different parts of the last three days, the temperature has dropped significantly. On the other hand, it has had a direct impact on the crops. Due to rain and hailstorm accompanied by strong winds, crops of wheat, gram and tiwara have suffered a lot. Collector Shri Ranbir Sharma said while discussing with the journalists that the sudden rain and hailstorm has wreaked havoc. Due to which the crops standing in the fields in many villages of the district have been completely destroyed. Crops have suffered a lot due to rain and hailstorm. Apart from this, horticultural crops like banana and papaya have also been damaged in the district. Due to which farmers are upset and worried. He said that this is likely to affect the production as well as quality of crops. He said that an estimate of about Rs 62.50 crore has been sent to the state government. Farmers who have crop insurance. They will get Rs 37 thousand 500 per hectare. Apart from this, cases of some farmers will also be made in RBC 6 (4).

Comments

Popular posts from this blog

कलेक्टर दीपक सक्सेना का नवाचार जो किताबें मेले में उपलब्ध वही चलेगी स्कूलों में me Aajtak24 News

पुलिस ने 48 घंटे में पन्ना होटल संचालक के बेटे की हत्या करने वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार girafatar Aaj Tak 24 News

कुल देवी देवताओं के प्रताप से होती है गांव की समृद्धि smradhi Aajtak24 News