कलेक्टर मयंक चतुर्वेदी ने किया प्रगतिशील कृषकों की खेती का अवलोकन collectore mayank chaturvedi ne kheti ka avlokan kiya

कलेक्टर मयंक चतुर्वेदी  ने किया प्रगतिशील कृषकों की खेती का अवलोकन collectore mayank chaturvedi ne kheti ka avlokan kiya



*उन्नत कृषि तकनीक अपनाने के लिए दिया प्रोत्साहन, अपरम्परागत फसलों को बढ़ावा दिए जाने की समझाइश*
 
दंतेवाड़ा:- कलेक्टर मयंक चतुर्वेदी द्वारा आज ब्लॉक गीदम अंतर्गत उन्नत कृषि कर रहे प्रगतिशील कृषकों की खेती का अवलोकन किया गया। इस दौरान उन्होंने कृषकों से चर्चा करते हुए उन्हें कृषि की उन्नत विधियां एवं तकनीक अपनाने पर बल देते हुए क्षेत्र में अपरम्परागत फसलों को भी बढ़ावा देने का आग्रह किया। उन्होंने कृषकों से यह भी कहा कि वे अपने आस-पास के अन्य किसानों को भी इसके लिए प्रेरित करें। इस क्रम में कलेक्टर ग्राम घोटपाल पहुंचकर कृषक धनीराम की कृषि भूमि का अवलोकन किया यहां उक्त कृषक द्वारा अपने खेत में आधुनिक विधि से करेला शाक का उत्पादन किया जा रहा है। इसे देखकर कलेक्टर ने उक्त कृषक को प्रोत्साहित करते हुए अन्य किसानों को भी इसी प्रकार सुविधा देने तथा क्षेत्र में क्लस्टर बनाने के लिए उद्यानिकी विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया। इसके साथ ही उन्होंने यहां एक अन्य कृषक लक्ष्मण द्वारा की जा रही टमाटर की खेती को भी देखा। तत्पश्चात कलेक्टर ने ग्राम पुरनतराई में कृषक ‘‘मारोराम‘‘ के यहां मसूर दाल की उन्नत खेती का अवलोकन किया और उसका उत्साहवर्धन करते हुए अन्य कृषकों को भी इसी प्रकार अनुसरण करने की समझाइश दी। इस निरीक्षण भ्रमण के दौरान क्रम में कलेक्टर बड़े तुमनार स्थित पटेल पारा के प्रगतिशील कृषक चामसिंह और मुराराम से भी मिले और उनकी सब्जी बाड़ी में श्री विधि से लगाये गये फसलों का भी जायजा लिया। उक्त कृषकों ने अपनी कृषि में विभागीय मार्गदर्शन से ‘‘जीवामृत एवं हंडीदवा‘‘ जैसी जैविक पद्धतियों का प्रयोग किया हुआ है। और ये कृषक डंकिनी नदी के कछार तट पर पंप के सहारे सिंचाई कर शाक-सब्जी की उत्पादन कर रहे है। इस मौके पर कलेक्टर ने उक्त कृषकों से जैविक खेती की पद्धतियों से अवगत होकर कृषि विभाग को इसी प्रकार 3-4 किसानों के बीच गौमूत्र संग्रहण हेतु पक्का फ्लोर बनाने के निर्देश दिये। उक्त कृषकों द्वारा अपनी भूमि के कुछ हिस्से पर अन्नानस फल पौधे का भी रोपण किया हुआ है। इससे प्रभावित होकर कलेक्टर ने उद्यानिकी विभाग को अन्य कृषक परिवारों की आय वृद्धि हेतु प्रगतिशील कृषि तरीकों के उपयोग पर प्रोत्साहन देने, और उत्पादन एवं उत्पादकता में वृद्धि, और उन्नत कृषि यंत्र के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए निर्देशित किया। 
इस दौरान कलेक्टर ग्राम हिरानार स्थित कड़कनाथ मुर्गी पालन हब एवं वृद्धाश्रम भी पहुंचे जहां उन्होंने कड़कनाथ मुर्गी पालन में रोजगार संभावनाओं पर भी जानकारी ली।  वहां वृद्धआश्रम में रह रहे बच्चों के लिए पुस्तकों और मेज इत्यादि की व्यवस्था करने के लिए भी अधिकारियों को भी कहा। इस मौके पर उप संचालक कृषि सूरज कुमार पंसारी, सहायक संचालक उद्यान डिकलेश कुमार, भुमगादी संस्था से आकाश वडावे सहित आर एस नेताम, मनीष कुंजाम आदि विभागीय कर्मचारी उपस्थित थे।

Comments

Popular posts from this blog

कलेक्टर दीपक सक्सेना का नवाचार जो किताबें मेले में उपलब्ध वही चलेगी स्कूलों में me Aajtak24 News

पुलिस ने 48 घंटे में पन्ना होटल संचालक के बेटे की हत्या करने वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार girafatar Aaj Tak 24 News

कुल देवी देवताओं के प्रताप से होती है गांव की समृद्धि smradhi Aajtak24 News