राष्ट्रीय विज्ञान दिवस पर हुआ विज्ञान चित्रकला एवं विज्ञान रंगोली प्रतियोगिता का आयोजन pratiyogita ka aayojan Aaj Tak 24 news

 


राष्ट्रीय विज्ञान दिवस पर हुआ विज्ञान चित्रकला एवं विज्ञान रंगोली प्रतियोगिता का आयोजन pratiyogita ka aayojan Aaj Tak 24 news 

शहडोल -  डॉ निधि शुक्ला विज्ञान क्लब प्रभारी ने बताया कि लोगों में विज्ञान के प्रति रुचि बढ़ाने और समाज में विज्ञान के प्रति जागरुकता लाने के लिए हर साल राष्ट्रीय विज्ञान दिवस मनाया जाता है। यह मानव जाति की प्रगति के लिए वैज्ञानिक विश्लेषण और खोज के महत्व पर प्रकाश डालता है। यह भारतीय नागरिकों को भौतिक दुनिया को प्रभावित करने वाली घटनाओं का अध्ययन करने और समझने के लिए प्रोत्साहित करता है।विज्ञान ब्रह्मांड में जीवन, निर्माण और विनाश की प्रक्रिया को समझने के लिए कुछ सैद्धांतिक या प्रेक्टिकल प्रणालियों का उपयोग कर हमारी दुनिया का अध्ययन है। विज्ञान के क्षेत्र में भारत का एक समृद्ध इतिहास है, जहां कई दिग्गजों ने देश को गौरवान्वित किया है। सीवी रमन विज्ञान के क्षेत्र के ऐसे ही एक दिग्गज हैं। राष्ट्रीय विज्ञान दिवस भारत में 28 फरवरी को मनाया जाता है। यही वह दिन है जब देश के महान वैज्ञानिक सीवी रमन ने 'रमन प्रभाव' का आविष्कार किया था, जिसके लिए उन्हें नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया।शासकीय पूर्व माध्यमिक विद्यालय शहंशाह आश्रम मैं आज राष्ट्रीय विज्ञान दिवस के उपलक्ष में चित्रकला प्रतियोगिता एवं विज्ञान रंगोली प्रतियोगिता का आयोजन किया गया इन प्रतियोगिताओं में कक्षा 6 7 एवं 8 के छात्र छात्राओं ने हिस्सा लिया एवं प्रथम द्वितीय एवं तृतीय स्थान पर आने वाले छात्र छात्राओं को पुरस्कार एवं प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया। विद्यालय की प्रधानाध्यापिका श्रीमती लक्ष्मी भूमिया के निर्देशन एवं बटरफ्लाई विज्ञान क्लब की प्रभारी डॉ निधि शुक्ला के मार्गदर्शन में इन प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में श्रीमती संध्या अग्रवाल ,श्रीमती सुनीता ,सिंह श्री गुलाब सिंह, श्री महेंद्र मिश्रा श्रीमती अनुकंपा  टोप्पो श्रीमती उषा पटेल उपस्थित रहे एवं कार्यक्रम में निर्णायक समिति के रूप में बच्चों का उत्साहवर्धन किया मनोबल बढ़ाया । श्रीमती संध्या मैडम के द्वारा बच्चों को विज्ञान के महत्व को बताया गया श्री गुलाब गुप्ता जी के द्वारा श्रीमती सुनीता सिंह के द्वारा बच्चों को विज्ञान के प्रति जागरूकता वैज्ञानिक दृष्टिकोण एवं समाज में हो रहे अंधविश्वासों को दूर करने की समझ विकसित करने के लिए समझाया गया।बच्चों ने बड़े ही उत्साह से विज्ञान के कठिन चित्रों को आसानी से अपनी प्रतिभा का हुनर दिखाते हुए रंगों के माध्यम से सीख लिया रंगोली और विज्ञान का यह अनूठा  संगम इम्तिहान के समय उन्हें कठिन चित्रों को याद करने के लिए आसान कर गया



Comments

Popular posts from this blog

पुलिस ने 48 घंटे में पन्ना होटल संचालक के बेटे की हत्या करने वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार girafatar Aaj Tak 24 News

कलेक्टर दीपक सक्सेना का नवाचार जो किताबें मेले में उपलब्ध वही चलेगी स्कूलों में me Aajtak24 News

कुल देवी देवताओं के प्रताप से होती है गांव की समृद्धि smradhi Aajtak24 News