अब समय संस्कार संस्कृति इतिहास को पुनः सीखने व जागने का आ गया है - श्री विश्वनाथ प्रताप सिंह | Ab samay sanskar sankrati itihas ko punah sikhne va jagne ka agaya hai

अब समय संस्कार संस्कृति इतिहास को पुनः सीखने व जागने का आ गया है - श्री विश्वनाथ प्रताप सिंह

अब समय संस्कार संस्कृति इतिहास को पुनः सीखने व जागने का आ गया है - श्री विश्वनाथ प्रताप सिंह

बदनावर (पोपसिंह राठौर) - हिंदुस्तान के ध्वज में तीन रंग है और सबसे ऊपर हमारे पूर्वजों के बलिदान का प्रतीक, जो केसरिया रंग है वह सबसे ऊपर है। जहां विज्ञान की सोच खत्म हो जाती है वहां राजपूतों ने झंडे गाड़े हैं।ऐसे हमारे पूर्वज थे जिनका रक्त हमारी शिराओं में दौड़ रहा है और हम अनुसरण उन लोगों का कर रहे हैं जिनकी हिम्मत हमारे सामने खड़े रहने कि नहीं है। जिस दिन अपनी जाति अपने ही संस्कार संस्कृति व इतिहास को खो देती है वह जाति इतिहास में जिंदा नहीं रहती है।अपने बच्चों को अपने वंश कुलदेवी, शास्त्र एवं इतिहास के बारे मैं पढ़ाएं तब जाकर इतिहास हमारा देश, राष्ट्र व क्षत्रिय संस्कार आगे बढ़ेंगे। बदलाव चाहिए तो शुरूआत स्वयं से करना पड़ेगी। अब समय संस्कार संस्कृति इतिहास को पुनः सीखने व जागने का आ गया है।

अब समय संस्कार संस्कृति इतिहास को पुनः सीखने व जागने का आ गया है - श्री विश्वनाथ प्रताप सिंह

      उक्त ओजस्वी विचार क्षत्रिय राजपूत समाज नागदा द्वारा वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप की 482वी जयंती महोत्सव के उपलक्ष में आयोजित शौर्य यात्रा एवं सभा में जय राजपूताना संघ के संस्थापक अध्यक्ष श्री विश्वनाथ प्रताप सिंह रेटा राजस्थान ने बतौर मुख्य अतिथि के रूप में व्यक्त किए। प्रारम्भ मैं राजपूत धर्मशाला परिसर स्थित अश्वरोही महाराणा प्रताप की प्रतिमा एवं भूमि दान दाता गणपत सिंह परिहार की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर शौर्य यात्रा की शुरुआत की गई। यात्रा में डीजे एवं बैंड बाजे के साथ एक बग्गी मैं महाराणा प्रताप का आदम कद चित्र रखा था। साथ में 3 नवयुवक केसरिया ध्वज लेकर घोड़ी पर सवार थे।चल समारोह में बड़े बुजुर्ग व युवा राजपूत सेकड़ो की तादाद में राजपूती वेशभूषा धारण कर पैदल चल रहे थे।

नागदा नगर में 2 घंटे में भ्रमण कर धर्मशाला परिसर पहुंची शौर्य यात्रा सभा में तब्दील हो गई। कार्यक्रम की शुरुआत अतिथियों द्वारा माँ सरस्वती, महाराणा प्रताप एवं धर्मशाला के प्रेरणास्रोत रतन सिंह कामदार के चित्र पर दिप प्रज्ज्वलन व माल्यार्पण कर की गई। आयोजन समिति द्वारा मंचासीन अतिथियों का स्वागत केसरिया दुपट्टे से किया गया।स्वागत भाषण हुकुम सिंह तवर ने दीया। कार्यक्रम के संबोधन की शुरुआत वीर रस के युवा कवि दर्शन लोहार रतलाम से हुई जिन्होंने महाराणा प्रताप की ओजस्वी कविता से पांडाल में जोश भर दिया। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे औद्योगिक नीति एवं निवेश प्रोत्साहन मंत्री राजवर्धन सिंह दत्तीगांव ने कहा क्षत्रिय को सम्मानित व पूजा इसलिए जाता है की वो जिस क्षेत्र में है उसकी रक्षा और समस्या हल करता है। अन्याय के खिलाफ लड़ता है, अबला, असहाय, कमजोर का संबल बनता है और अपने कर्म के आधार पर शासन करता है। उस समय गणतंत्र नहीं था। मतदान नहीं होता था,लेकिन हमारे पूर्वजों में इतनी शक्ति थी,चरित्र इतना प्रबल था,व्यक्तित्व इतना प्रखर था।उनके मां के दूध में इतना दम था और संस्कार इतने दे दिए जाते थे कि अपनी धरा के लिए जीता था। अपने शरीर के अंग कटना पसंद करते थे लेकिन अपना झंडा नहीं झुकने देते थे।

 विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित राजपूत करणी सेना मूल के प्रदेश अध्यक्ष शिवप्रताप सिंह चौहान, अखिल भारतीय युवा क्षत्रिय महासभा के इंदौर जिला अध्यक्ष दुलेसिंह राठौड़,राजपूत किरण पत्रिका संपादक धन सिंह राठौर, जय राजपूताना संघ के प्रदेश संयोजक लाखन सिंह डोडिया, अभिषेक सिंह टिंकू बना आदि ने संबोधित किया।मंच पर अतिथि के रूप में क्षत्रिय महासभा के जिलाध्यक्ष मलखान सिंह मोरी, हिंदू जागरण मंच जिलाध्यक्ष निर्भय सिंह पटेल, रतन सिंह गोहिल, अर्जुन सिंह पटेल, मुकेश पटेल, ईश्वर सिंह तंवर, राजेन्द्र सिंह,मनोहर सिंह पटेल, जितेंद्र सिंह राठौर आदि मंचासीन थे। मंचासीन अतिथियों को समिति के विनोद पटेल, धर्मेंद्र सिंह, सोहन सिंह, नौबत सिंह, प्रदीप सिंह,बलराम सिंह, वीरेंद्र सिंह, संदीप सिंह, शंभू सिंह आदि द्वारा स्मृति चिन्ह के रूप में महाराणा प्रताप की तस्वीर भेंट की गई । कार्यक्रम का संचालन गोवर्धन सिंह डोडिया खिलेड़ी ने किया एवं आभार आयोजन समिति के केवल सिंह चावड़ा पलवाड़ा ने माना।

*इन संस्थाओ ने किया स्वागत*

शौर्य यात्रा के नागदा नगर में प्रवेश पर गोहिल परिवार मेहरबान सिंह जी पिंजराया,

सुनीता ट्रेडर्स -मनीष राजोरिया,

जय माता दी ट्रेडर्स -भुवान सिंह सोलंकी,

जिला कांग्रेस कमेटी धार,

भारतीय जनता पार्टी कानवन मण्डल,

राष्ट्रीय राजपूत  करणी सेना बदनावर धार, 

मुकेश फोजी नागदा मित्र मंडल, 

भाजपा पिछड़ा वर्ग,महालक्ष्मी हार्डवेयर,पाटीदार मेडिकल, बजरंग चाय,फेशन घर,माहेश्वरी स्टील भण्डार,भारत मेडिकल, कृष्णा हार्डवेयर, नवकार इलेक्ट्रानिक, संजू राठौड़ मित्र मंडल, आदर्श रामायण मंडल,

अभिषेक बुक सेंटर, महावीर मेडिकल,राठौड़ काम्प्लेक्स,

पंकज मित्र मंडल,सावरिया होटल, युवक कांग्रेस बदनावर, शुभम क्लॉथ स्टोर्स, पांडे परिवार, ग्राम पंचायत माकनी, कालू राठौड़ मित्र मंडल आदि ने पुष्पवर्षा कर स्वागत किया एवं पेयजल उपलब्ध करवाया जबकि  महावीर मेडिकल की और से आइसक्रीम एवं  गोहिल परिवार की और से ककड़ी का स्वल्पाहार प्रदान कि गई।

*80 लाख से अधिक विजिटर्स के साथ बनी सर्वाधिक लोकप्रिय*

*आपके जिले व ग्राम में दैनिक आजतक 24 की एजेंसी के लिए सम्पर्क करे - 8827404755*

Comments

Popular posts from this blog

पंचायत सचिवों को मिलने जा रही है बड़ी सौगात, चंद दिनों का और इंतजार intjar Aajtak24 News

कलेक्टर दीपक सक्सेना का नवाचार जो किताबें मेले में उपलब्ध वही चलेगी स्कूलों में me Aajtak24 News

पुलिस ने 48 घंटे में पन्ना होटल संचालक के बेटे की हत्या करने वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार girafatar Aaj Tak 24 News