शिक्षा में संस्कार, समझ और सेवा का समन्वय ही संपूर्ण व्यक्तित्व को दिशा देता है | Shiksha main sanskar samajh or seva ka samanvya hi sampurn vykatitv ko disha deta hai

शिक्षा में संस्कार, समझ और सेवा का समन्वय ही संपूर्ण व्यक्तित्व को दिशा देता है

शिक्षा में संस्कार, समझ और सेवा का समन्वय ही संपूर्ण व्यक्तित्व को दिशा देता है

बड़वानी - शिक्षक दिवस शिक्षकों के लिए शिक्षा संकल्प के पुनर्मूल्यांकन का दिवस होता है इस दिन एक शिक्षक विद्यार्थियों को दी गई शिक्षा का परिणाम साकार होते हुए देखता है। और उसे अपने विद्यार्थी को शिक्षा संस्कार एवं सेवा के समन्वय से समाज में जिम्मेदार व्यक्तित्व के रूप में प्रस्तुत करता है।  उक्त बातें शिक्षक दिवस पर आशा ग्राम ट्रस्ट में आयोजित कार्यक्रम में एसडीएम श्री घनश्याम धनगर ने कही। उन्होंने आशा इंस्टीट्यूट आफ नर्सिंग के शिक्षकों से विद्यार्थियों को मैं नहीं हम की भावना विकसित कर समाज और पर्यावरण के लिए मन लगाकर कार्य करने की शिक्षा देने का आह्वान किया। इस दौरान आशा कुंज पर्यावरण पाठशाला के शिक्षक मुख्य नगरपालिका अधिकारी श्री कुशल सिंह डोडवे एवं सहायक संचालक श्री अजय कुमार गुप्ता ने भी बच्चों को पर्यावरण, स्वच्छता एवं उत्तम स्वास्थ्य का महत्व बता कर समाज के लिए प्रेरक बनने की सीख दी। बच्चों ने भी एसडीएम श्री घनश्याम धनगर की पहल में सहभागिता निभाते हुए जिला दिव्यांग पुनर्वास केंद्र परिसर में स्वच्छता अभियान चलाया तथा खरपतवार निकालकर परिसर को साफ स्वच्छ बनाकर यह बता दिया कि हम आपके द्वारा आरंभ किए गए पर्यावरणीय कार्यों को संभालेंगे और आगे भी बढ़ाएंगे। इस दौरान एसडीएम श्री धनगर एवं अतिथियों ने प्रथम आने वाले विद्यार्थियों को प्रशस्ति पत्र प्रदान कर प्रोत्साहित किया वही आशा इंस्टिट्यूट आप नर्सिंग के शिक्षकों को भी शिक्षक दिवस पर प्रतीक चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया। इस दौरान आशा ग्राम ट्रस्ट के कार्यकर्ता नर्सिंग इंस्टिट्यूट का स्टाफ नर्सिंग छात्र छात्राएं आशा कुंज पर्यावरण पाठशाला के स्वयं सेवक आदि उपस्थित थे।

Post a Comment

0 Comments