ऑक्सीजन व्यवस्था में आत्म-निर्भर बनेगा मध्यप्रदेश | Oxygen vyavastha main atmnirbhar banega MP

ऑक्सीजन व्यवस्था में आत्म-निर्भर बनेगा मध्यप्रदेश

ऑक्सीजन व्यवस्था में आत्म-निर्भर बनेगा मध्यप्रदेश

ग्वालियर - कोरोना महामारी संकट के समय सभी लोगों ने पूरी हिम्मत एवं बुलंद हौंसलों के साथ लडाई लडी। यही वजह है कि कोरोना की दूसरी लहर से सबक लेकर ऑक्सीजन की स्थाई उपलब्धता सुनिश्चित करनें के लिए केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा ठोस कदम उठाकर जिलों में ऑक्सीजन प्लांट स्थापित कराए गए है। यह बात अशोकनगर विधायक श्री जजपाल सिंह जज्जी ने मंगलवार को जिला चिकित्सालय में स्थापित नव स्थापित ऑक्सीजन संयंत्र का लोकार्पण करते हुए कही। लगभग 1 करोड़ 20 लाख रूपये की लागत वाले इस 01 ऑक्सीजन प्लांट की क्षमता 300 एलपीएम (लीटर प्रति मिनिट) ऑक्सीजन उत्पादन की है। विधायक श्री जजपाल सिंह ने कहा कि प्रदेश में बडे स्तर पर ऑक्सीजन संयंत्र लगाए जा रहे हैं। सितम्बर माह तक शेष सभी प्लांट्स क्रियाशील हो जायेंगे।कोरोना काल में समझ आया ऑक्सीजन का महत्व  विधायक ने कहा है कि प्रदेश में ऑक्सीजन के क्षेत्र में आत्म-निर्भरता प्राप्त करने के प्रयास जीवन की सौगात की तरह हैं। कोविड के दौर में हम ऑक्सीजन का महत्व समझ चुके हैं। हमारे प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी तथा प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जो कि वर्तमान के साथ-साथ भविष्य का आकलन भी करते हैं। उनके प्रयासों से मध्यप्रदेश सहित अन्य राज्यों को समय पर ऑक्सीजन मिली, जिसके फलस्वरूप अनमोल जिंदगियों को बचाया जा सका। उन्होंने कहा कि कोविड के संक्रमण की तीसरी लहर नहीं आए, उसके लिए हम सब कटिबद्ध हैं। यदि तीसरी लहर आ भी जाये तो उसके लिए हम पूरी तरह से सजग और तैयार हैं। फीता काटकर ऑक्सीजन संयंत्र का किया लोकार्पण इस अवसर पर विधायक श्री जजपाल सिंह जज्जी ने जिला चिकित्सालय परिसर पर नवनिर्मित ऑक्सीजन संयंत्र का विधि विधान पूजा अर्चना की तथा फीता काटकर लोकार्पण किया। इस दौरान उन्होंने शिला पट्टिका भी लोकार्पित की।  इस अवसर पर पूर्व भाजपा जिला अध्यक्ष श्री नीरज मनोरिया,श्री धर्मेन्द रघुवंशी, एसडीएम श्री रवि मालवीय,सिविल सर्जन डॉ. जे.आर त्रिवेदिया,डॉ डी.के. भार्गव सहित जनप्रतिनिधि तथा नागरिकगण उपस्थित थे।

Post a Comment

0 Comments