योग, यज्ञ एवं वृक्षारोपण के साथ श्रृद्धेय आचार्य बालकृष्ण जी का जन्म दिन उत्साह से मनाया | Yog yagya evam vriksharopan ke sath acharya balkrishna ji ka janmdin utsah se manaya

योग, यज्ञ एवं वृक्षारोपण के साथ श्रृद्धेय आचार्य बालकृष्ण जी का जन्म दिन उत्साह से मनाया

योग, यज्ञ एवं वृक्षारोपण के साथ श्रृद्धेय आचार्य बालकृष्ण जी का जन्म दिन उत्साह से मनाया

केसूर (अनिल परमार) - पतंजलि योगपीठ जिला धार के तत्वावधान में शांति कुंज कालोनी धार में परम पूज्य योग ऋषि स्वामी रामदेव जी महाराज के मार्गदर्शन में आयुर्वेद शिरोमणि परम श्रद्धेय आचार्य बालकृष्ण जी महाराज का जन्म दिवस जड़ी-बूटी दिवस के रूप में ढोल नगाड़ों के साथ युवा भारत राज्य प्रभारी यशस्वी पेमाराम पूनिया के मुख्य आतिथ्य में तथा प्रकृति प्रेमी धार जिले के धरती पुत्र कर्म योगी पिरागसिंह डामोर के विशेष आतिथ्य में तथा भारत स्वाभिमान जिला प्रभारी एवं युवा भारत राज्य कार्यकारिणी के सदस्य विक्रम डूडी की अध्यक्षता में, पतंजलि योग समिति जिला प्रभारी रामभरोसे वर्मा, महिला पतंजलि योग समिति जिला प्रभारी श्रीमती आरती यादव, युवा भारत जिला प्रभारी सुनील धौरा के आतिथ्य में योग शिविर का आयोजन किया गया।साथ ही धार जिला पतंजलि के योग प्रभारी लाखनसिंह आर्य, महेश आर्य के द्वारा वेद की ऋचाओं के साथ वैदिक यज्ञ कराया गया,। वृक्षारोपण सभा में प्रर्यावरण विद पिरागसिंह डामोर ने बताया कि उन्होंने धार जिले के छोटे से गांव अकोदा से सायकिल से देश के बावीस राज्यो का भ्रमण किया ओर पौधे रोपे व प्रर्यावरण के प्रति अलख जगाया ओर सतत भारत मां की सेवा में स्वयं पौधे तैयार कर रोपण एवं संरक्षण करते हैं सादलपुर में रामभरोसे वर्मा से भेंट हुई तब से पतंजलि योगपीठ के सवा लाख औषधीय पौधों के रोपण वितरण में जुटे रहकर लगभग एक हजार गिलोय की कलम वितरण,रोपण कर चुके हैं।संस्था के द्वारा डामोर का सम्मान मुख्य अतिथि पूनिया के साथ सभी जिला पदाधिकारियों ने माल्यार्पण कर किया । 

मुख्य अतिथि का स्वागत भी सभी ने किया।स्वागत भाषण में विक्रम डूडी ने पतंजलि योगपीठ जिला धार के गत वर्ष की तरह इस वर्ष भी सवा लाख औषधीय पौधों का रोपण वितरण का लक्ष्य तीन माह में पूरा करने की बात कही जिले की हर तहसील को दस दस हजार का लक्ष्य दिया गया है। मुख्य अतिथि पेमाराम पूनिया ने बताया कि गुरू पूर्णिमा पर हरिद्वार परम पूज्य योग ऋषि स्वामी रामदेव जी महाराज ने निर्देशित किया है कि हमें एक करोड़ औषधीय पौधों का रोपण एवं एक करोड़ स्वदेशी समृद्धि कार्ड बनाने है। प्रत्येक जिले से पचास छात्रों का  वैदिक शिक्षा के लिए  एक साल का शुल्क चौविस हजार रखा गया है तीन से पांच वर्ष की आयु के बालकों का चयन कर भेजना है। वैदिक शिक्षा बोर्ड की जानकारी दी। श्री मती आरती यादव ने कहा कि हमें घर घर योग,यज्ञ एवं गिलोय पहुचाना है इस लिए वार्ड समितियां जब भी हमाराआह्वान करेंगे हम हाज़िर होंगे।श्री मती आशा कटारिया ने पैड़ पौधों के द्वारा निशुल्क आॅक्सीजन की पूर्ती पर प्रकाश डाला। युवा भारत प्रभारी सुनील धौरा ने युवाओं की अधिक से अधिक भागीदारी के लिए योग को खेल की भांति जीवन में उतारें व आगामी समय में योगासन खेल प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेते हुए ओलम्पिक तक का सफर तय करें।दीपक त्रिवेदी ने लक्ष्य पूर्ति में सहयोग की बात कही। वृक्षारोपण किया गया।व ढोल घमाकों के साथ पौधों सहित चलसमारोह निकाल कर गिलोय की कलम वितरण की गई।इस अवसर, कोषाध्यक्ष शिव शर्मा,प्रदीप पाटिल, भरत जी , दिलिप पाटीदार , भुवान सिंह ,अनिल धौरा ,श्री मती रेखा अग्रवाल ,महिला पतंजलि तहसील प्रभारी श्रीमती संगीता पांडर,प्रिया यादव,श्री मती राधा मालविया कु रिया, सहित बड़ी संख्या में मातृ शक्ति व गुरु निष्ठ भाईयों की गरिमा मय उपस्थिति रही। भारत स्वाभिमान सहप्रभारी पंकज जैन का विशेष योगदान रहा ।संचालन लाखनसिंह आर्य ने किया आभार प्रकट करते हुए रामभरोसे वर्मा ने बताया कि परम पूज्य स्वामी रामदेव जी महाराज के एक करोड़ के संकल्प को पूरा करने के लिए विगत माह से लगातार गिलोय तुलसी एलोवेरा पत्थर चट्टा बेल आदि पौधों के रोपण वितरण के जुटे हुए हैं अब तक सैकड़ों कलम गिलोय का वितरण किया गया है।यह जानकारी मिडिया प्रभारी मिलिंद पांडर ने दी।

Comments

Popular posts from this blog

पंचायत सचिवों को मिलने जा रही है बड़ी सौगात, चंद दिनों का और इंतजार intjar Aajtak24 News