कोरोना की दूसरी लहर के लॉक डाउन के बाद पहली बार बिना रोक टोक के हजारो श्रद्धालुओ ने नर्मदा तट पर आस्था की लगाई डुबकी | Corona ki dusri lahar ke lockdown ke baad pehli bar bina rok tok ke hazaro shraddhaluo ne narmada tat pr astha ki lagai dubki

कोरोना की दूसरी लहर के लॉक डाउन के बाद पहली बार बिना रोक टोक के हजारो श्रद्धालुओ ने नर्मदा तट पर आस्था की लगाई डुबकी

कोरोना की दूसरी लहर के लॉक डाउन के बाद पहली बार बिना रोक टोक के हजारो श्रद्धालुओ ने नर्मदा तट पर आस्था की लगाई डुबकी

बडवाह (विशाल कुमरावत) - कोरोना की दूसरी लहर में लॉक डाउन के बाद से पहली बार नावघाट खेड़ी स्थित नर्मदा तट पर  अमावस्या पर्व पर श्रद्धालु बिना रोक टोक के स्नान कर सके। रविवार को नर्मदा तट पर हजारों श्रद्धालुओं ने सावन की हरियाली एवं जिरोटी अमावस्या पर माँ नर्मदा में आस्था की डुपकी लगाई। व माँ नर्मदा व शिवलिंग का पूजन अर्चन के सुख सम्रद्धि की कामना की।

कोरोना की दूसरी लहर के लॉक डाउन के बाद पहली बार बिना रोक टोक के हजारो श्रद्धालुओ ने नर्मदा तट पर आस्था की लगाई डुबकी

इस दौरान नर्मदा तट पर नाव घाट खेड़ी की अव्यवस्था भी नजर आई

नर्मदा तट पर पशुओं के जमावड़े से श्रद्धालुओ को परेशान होना पड़ा। पंचायत के सरपंच - सचिव ने कोई व्यवस्था नही की गई थी। 

पण्डित गिरजा शंकर अत्रे ने बताया कि सावन माह में अमावस्या पर पवित्र सरोहर व नदियों में स्नान करने का महत्व माना गया है। इस अमावस्या को हरियाली एवं जिरोति अमावस्या कहते है। इसदिन घरों में लोग दिवालो पर जिरोति माता बना कर उनका पूजन अर्चन करते है। 

Comments

Popular posts from this blog

पंचायत सचिवों को मिलने जा रही है बड़ी सौगात, चंद दिनों का और इंतजार intjar Aajtak24 News