टीकाकरण केंद्र पर कोरोना गाइडलाइन की उड़ रही धज्जियां | Tikakaran kendr pr corona guideline ki ud rhi dhajjiya

टीकाकरण केंद्र पर कोरोना गाइडलाइन की उड़ रही धज्जियां

*टीकाकरण केंद्र पर अव्यवस्था को लेकर लोगों ने की नाराजगी जाहिर मजदूर होते रहे परेशान*

टीकाकरण केंद्र पर कोरोना गाइडलाइन की उड़ रही धज्जियां

आगर मालवा (अंकित दुबे) - कोरोना महामारी के बचाव के लिए टीकाकरण किया जा रहा है लेकिन केंद्रों पर उमड़ रही भीड़ के चलते अव्यवस्था नजर आ रही हैं कोरोना महामारी से बचने के लिए टीकाकरण पर जोर दिया जा रहा है शासन प्रशासन द्वारा टीकाकरण के लिए लोगों को जागरूक भी किया गया अब लोग संभावित कोरोना की तीसरी लहर को देखते हुए स्वयं टीकाकरण केंद्र पर पहुंच रहे हैं ऐसे में टीकाकरण केंद्रों पर अव्यवस्था का आलम नजर आ रहा है यहां लोगों को घंटों इंतजार करना पड़ रहा है भीड़ की वजह से दिक्कतें भी हो रही है सोयत कला प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में टीकाकरण कराने पहुंचे लोगों ने कतार में लगने की बात को लेकर विवाद हो गया और नौबत धक्का-मुक्की पहुंच गई लोगों ने अव्यवस्था को लेकर नाराजगी जाहिर की कोरोना के बचाव के लिए टीकाकरण अत्यंत आवश्यक है जिसे समझते हुएलोग आप स्वयं जागरूक हुए हैं और टीकाकरण कराने टीकाकरण केंद्रों तक पहुंच भी रहे हैं हम आपको बता दें टीकाकरण करवाने के लिए प्रातः 6:00 बजे से लोगआना शुरू हो गए एवं चप्पल जूते अन्य सामग्री रखते हुए अपने नंबर लगाया लेकिन बीच में अन्य लोगों के द्वारा भी अपने नंबर लगाने का प्रयास किया जिसके कारण टीकाकरण केंद्र पर लोगों के बीच कहासुनी हुई एवं जैसे-तैसे मामला शांत हुआ।

टीकाकरण केंद्र पर कोरोना गाइडलाइन की उड़ रही धज्जियां

टीकाकरण केंद्र पर 10:00 बजे तक कोई भी जिम्मेदार नजर नहीं आया बता दें कि नायब तहसीलदार बीके मकवाना के द्वारा टीकाकरण केंद्र पर गोले बनाकर टोकन व्यवस्था पूर्व में लागू की गई थी लेकिन प्रशासनिक समन्वय नहीं होने के कारण टोकन व्यवस्था समाप्त कर दी गई जब टोकन वितरित होते थे तो कोरोना गाइडलाइनका पालन होता था लेकिन अब सीधे तौर पर लाइन में खड़े होकर नंबर लगाए जा रहे हैं जिसके कारण अव्यवस्था हो रही हैं पूर्व में प्रातः 9:00 बजे टोकन वितरित हो जाते थे क्षेत्र के अंतर्गत लाखों की संख्या में 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लोग निवास करते हैंजिसके कारण जब टीकाकरण होता है तो टीके की संख्या से 4 गुना अधिक लोग टीकाकरण केंद्र पर पहुंच जाते हैं एवं अधिकारी कर्मचारी प्रभावशाली एवं नेता प्रवृत्ति के लोग भी अपने पद का दुरुपयोग करते हुए अपने चहिते को पतली गली से सीधे टीकाकरण करवा कर बाहर निकाल ले आते हैं जिसके कारण भी आमजन में काफी रोष देखने को मिला क्षेत्रवासियों ने प्रशासन से मांग की है कि टीके की संख्या बढ़ाई जाए  महिला एवं पुरुष के लिए टीकाकरण केंद्र अलग-अलग बनाए जाएं ताकि हम समय से टीकाकरण करवा सकें।

टीकाकरण केंद्र पर कोरोना गाइडलाइन की उड़ रही धज्जियां


Post a Comment

0 Comments