प्रधानमंत्री मोदी ने नए मंत्रियों को दी सलाह, पुराने साथियों का किया जिक्र | PM modi ne naye mantriyo ko di salah purane sathiyo ka kiya zikr

प्रधानमंत्री मोदी ने नए मंत्रियों को दी सलाह, पुराने साथियों का किया जिक्र

प्रधानमंत्री मोदी ने नए मंत्रियों को दी सलाह, पुराने साथियों का किया जिक्र
फ़ाइल फ़ोटो

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नई टीम के सदस्य कामकाज शुरू कर चुके हैं. केंद्रीय कैबिनेट की बैठक के बाद स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने ऐलान किया कि कोरोनावायरस से लड़ने के लिए 23,123 करोड़ रुपये का इमरजेंसी रिस्पॉन्स पैकेज मंजूर किया गया है. मंडाविया ने कहा, 'एक नए इमरजेंसी कोविड रिस्पॉन्स पैकेज के लिए 23,123 करोड़ रुपये कैबिनेट ने अप्रूव किए हैं. इसमें से 15,000 करोड़ केंद्र और 8000 करोड़ राज्य आवंटित करेंगे.' नए मंत्रियों के साथ बैठक में पीएम मोदी ने COVID-19 के नियमों का पालन न करने पर चिंता जाहिर की और कहा कि लापरवाही के लिए कोई जगह नहीं होनी चाहिए.

पीएम मोदी ने कहा कि मंत्री अपने पूर्ववर्तियों से मिलकर उनके अनुभवों से सीख सकते हैं. उन्होंने नए मंत्रियों से कहा कि जो अब सरकार में नहीं हैं, उन्होंने भी काफी योगदान दिया है और नए मंत्रियों को उनसे सीखना चाहिए.

पीएम मोदी ने सलाह देते हुए कहा कि केवल मंत्रियों का काम मायने रखता है और उन्हें मीडिया का आकर्षण पाने के दुष्चक्र में नहीं पड़ना चाहिए. उन्होंने कहा कि मंत्रियों को अनावश्यक बयनबाजी से बचना चाहिए.

प्रधानमंत्री ने मंत्रियों से समय पर कार्यालय पहुंचने और अपनी ऊर्जा मंत्रालय के काम करने में लगाने का आग्रह किया.

उन्होंने कहा कि मंत्रियों का ध्यान सबसे वंचित लोगों की सहायता करने पर केंद्रित होना चाहिए.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भीड़भाड़ वाले स्थानों पर लोगों द्वारा कोविड-19 के नियमों का पालन न करने पर चिंता जताते हुए कहा कि लापरवाही के लिए कोई जगह नहीं होनी चाहिए और एक छोटी सी गलती के दूरगामी परिणाम हो सकते हैं जिससे महामारी से लड़ाई कमजोर पड़ सकती है.

मोदी ने मंत्रियों से कहा कि लोगों में डर पैदा करना लक्ष्य नहीं होना चाहिए, बल्कि जनता से सभी प्रकार की सावधानी बरतने का आग्रह करना चाहिए, ताकि आने वाले समय में राष्ट्र इस महामारी के संकट से उबर सके.

पीएम ने भीड़भाड़ वाली जगहों के चित्र और वीडियो का हवाला देते हुए कहा कि यह अच्छा दृश्य नहीं है और इससे हमारे भीतर “भय की अनुभूति” होनी चाहिए.

प्रधानमंत्री ने मंत्रिपरिषद विस्तार के एक दिन बाद मंत्रियों से बातचीत की और कहा कि लोग बिना मास्क लगाए और सामाजिक दूरी का पालन किए बगैर दिखाई दे रहे हैं. 

उन्होंने जोर देकर कहा कि महामारी के विरुद्ध भारत की लड़ाई पूरे जोर-शोर से जारी है तथा टीकाकरण अभियान और जांच की संख्या में भी वृद्धि हो रही है.

देश में कोविड मामलों की बात करें तो गुरुवार सुबह जारी सरकारी आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटों में 45,892 नए मामले सामने आए और 817 लोगों की मौत हुई. देश में कोरोना के एक्टिव मामलों की संख्या 4,60,704 है. अभी तक वैक्सीन की 36.48 डोज लगाई जा चुकी हैं.

Post a Comment

0 Comments