फर्जी जाती प्रमाण पत्र की जांच कर दोषी व्यक्तियों पर दण्डात्मक कार्यवाही किया जाये - ब्रम्हे | Farzi jati praman patr ki janch kr doshi vyaktio pr dandatmak karyawahi kiya jaye

फर्जी जाती प्रमाण पत्र की जांच कर दोषी व्यक्तियों पर दण्डात्मक कार्यवाही किया जाये - ब्रम्हे   

फर्जी जाती प्रमाण पत्र की जांच कर दोषी व्यक्तियों पर दण्डात्मक कार्यवाही किया जाये - ब्रम्हे

बालाघाट (देवेंद्र खरे) - सिवनी में 2016 में इमरान खान को गोंड जाति का प्रमाण पत्र किया गया है जारी मिशन न्यू इंडिया नरेंद्र मोदी विचार मंच के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं मध्यभारत जोन के प्रभारी सूरज ब्रम्हे ने बताया कि दिनाँक 3/7/2021 को एक वाट्सएप ग्रुप में सिवनी जिले के ग्राम बखारी के निवासी मोहम्मद इमरान खान को 2016 में गोंड जाति का प्रमाण पत्र जारी किया गया है जिसका प्रमाण पत्र तुमसर निवासी प्रभुधन सोलंकी के द्वारा वाट्सएप ग्रुप में डाला गया था। इस सम्बंध में मैने जब प्रबुधन सोलंकी से फोन पर चर्चा की तो उन्होंने बताया कि एक रेल्वे का ग्रुप है उस ग्रुप में सिवनी में दो लड़कों ने इस प्रमाण पत्र को पोष्ट किया था। तो प्रभुधन सोलंकी ने इस प्रमाण पत्र को सभी ग्रुप में शेयर कर दिया था। इस सम्बंध मैने सिवनी के अपने साथियों को फोन करके सिवनी एस. डी. एम.कार्यालय जाकर सत्यता की जानकारी लेने कहा साथ ही कुछ कप्यूटर संचालकों से गूगल के माध्यम से सर्च करके इस जाती प्रमाण पत्र की सत्यता की जांच करने के लिए कहा तो पता चला कि ये प्रमाण पत्र 27/5/2016 को सिवनी के तत्कालीन एस. डी. एम. जी.पी.द्विवेदी ने जारी किया है। इस जाति प्रमाण पत्र क्रमांक RS/456/0104/4262/2026 है। 

फर्जी जाती प्रमाण पत्र की जांच कर दोषी व्यक्तियों पर दण्डात्मक कार्यवाही किया जाये - ब्रम्हे

जाती प्रमाण पत्र को बनाने के लिए ग्राम बखारी जिला-सिवनी के निवासी मोहम्मद इमरान खान पिता मोहम्मद इस्ताक खान , माता श्रीमती रुकैया बी.खान ने विधिवत दिनाँक 10/4/2013 को आवेदन किया था। जिसका प्रकरण क्रमांक 4457/बी-121/जाति प्रमाण पत्र है। जिसका आधार नम्बर 98630567591 है। आवेदन में आवेदक मोहम्मद इमरान खान ने अपना मोबाइल नम्बर भी दिया है जिसका मोबाइल नम्बर 9827676112 है। अब सवाल ये उठता है कि क्या सिवनी जिले में मुस्लिम समाज के जाति प्रमाण पत्र बनाने के नियम अलग हैं। और यदि नही हैं तो फिर एक मुस्लिम समाज के व्यक्ति को गोंड जाति का प्रमाण पत्र जारी कैसे कर दिया गया। मिशन न्यू इंडिया नरेंद्र मोदी विचार मंच के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं मध्यभारत जोन के प्रभारी सूरज ब्रम्हे ने प्रदेश के यशश्वी मुख्यमंत्री मा.शिवराज सिंह चौहान जी से मांग की है कि सिवनी के  तत्कालीन एस. डी. एम. जी.पी.द्विवेदी के कार्यकाल में जितने भी अनुसूचित जाति अनुसूचित जन जाति के जाति प्रमाण पत्र बनाये गये हैं उसकी उच्च स्तरीय जांच कराई जाये और फर्जी प्रमाण पत्र जारी करने में जिस-जिस अधिकारी एवं कर्मचारियों का हाथ है उनपर दंडात्मक कार्यवाही की जाये। साथ ही जिसके नाम से फर्जी जाति प्रमाण पत्र जारी किया गया है उस व्यक्ति पर भी कार्यवाही की जाये। यदि 15 दिवस के भीतर जांच कर कार्यवाही नही की जाती तो सिवनी जिले में अपने साथियों के साथ दोषी व्यक्तियों पर कार्यवाही की मांग को लेकर उग्र आन्दोलन किया जायेगा जिसकी सम्पूर्ण जवाबदारी प्रशासन की होगी।

Post a Comment

0 Comments