रतलाम जिले में किसी भी मरीज को कोई भी चिकित्सालय भर्ती करने से नहीं रोक सकता है | Ratlam jile main kisi bhi marij ko koi bhi chikitsalay bharti krne se nhi rok sakta

रतलाम जिले में किसी भी मरीज को कोई भी चिकित्सालय भर्ती करने से नहीं रोक सकता है

किसी भी तरह से मरीज का उपचार किया जाना चाहिए

रतलाम जिले में किसी भी मरीज को कोई भी चिकित्सालय भर्ती करने से नहीं रोक सकता है

रतलाम (यूसुफ अली बोहरा) - यह बात प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जावरा विधायक डॉ राजेंद्र पांडेय से कोरोना नियंत्रण को लेकर किए जा रहे कार्यों के संबंध में लंबी चर्चा के दौरान कहीं। श्री चौहान ने डॉ पांडेय से दूरभाष पर बात की । डॉ पांडेय ने जावरा विधानसभा क्षेत्र व रतलाम जिले में कोरोना नियंत्रण को लेकरसिविल हॉस्पिटल जावरा , मेडिकल कॉलेज रतलाम व अन्य चिकित्सालय में किए जा रहे उपचार की विस्तृत जानकारी दी। आपने जावरा सिविल हॉस्पिटल में लगातार मरीजों की संख्या बढ़ने और कोरोना पॉजिटिव की संख्या भी निरंतर बढ़ने के चलते  ऑक्सीजन की कमी की ओर ध्यान आकर्षित किया ।इसके अलावा नियमित रूप से रेमेडीसीवर इंजेक्शन नहीं  मिलने की बात भी बताई ।आपने  जावरा विधानसभा क्षेत्र के मरीजों को मेडिकल कॉलेज रतलाम में रेफर किए जाने के पश्चात भर्ती कर उपचार प्रारंभ करने मैं निरंतर हो रही लेटलतीफी के बारे में भी जानकारी दी ।विधायक डॉ पांडेय ने गत दिवस रतलाम नगर के एक अभिभाषक का  मेडिकल कॉलेज में भर्ती नहीं किए जाने पर बीच सड़क पर मृत्यु होने के मामले को भी मुख्यमंत्री को विस्तार से बताया ।जिस पर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने भी नाराजगी व्यक्त करते हुए स्पष्ट किया कि किसी भी चिकित्सालय द्वारा मरीजों को भर्ती करने से मना नहीं किया जा सकता चाहे उनके पास बेड उपलब्ध नहीं हो तो भी उपचार तो दिया जा सकता है ।इस संबंध में वह निर्देश भी जारी कर रहे हैं। विधायक डॉ पांडेय ने सिविल अस्पताल जावरा में कोविड केयर सेंटर के रूप में मरीजों के उपचार की जानकारी से अवगत कराते हुए बताया कि उनके द्वारा कोविड-19 व चिकित्सालय कायाकल्प में अभी तक 77 लाख रु की विधायक निधि दी जा चुकी है। इसके अलावा चिकित्सालय में ऑक्सीजन प्लांट व अन्य उपकरण के लिए जन सहयोग के रूप में 60 लाख रु से अधिक की राशि प्राप्त हो चुकी है। सिविल हॉस्पिटल परिसर में ऑक्सीजन प्लांट आगामी 15 से 20 दिन में स्थापित होकर कार्य करने शुरू कर देगा ।ग्रामीण क्षेत्र में भी कोरोना के बढ़ते प्रभाव के चलते ग्रामीण स्तर पर क्वारंटाइन सेंटर भी बनाए जा रहे हैं ,जहां गांव के कोविड-मरीजो उनको घर न रखते हुए क्वारंटाइन सेंटर पर रखा जाकर उपचार किया जाएगा। ऐसे सेंटर जावरा विधानसभा क्षेत्र में प्रारम्भ किये जा रहे हैं। सेंटर पर मरीजों को घर परिवार से दूर रखा जाएगा ताकि संक्रमण अधिक नहीं फैले।सिविल हॉस्पिटल में मरीजों से हाल पूछने के पश्चात चिकित्सकों व स्टाफ से व्यवस्थाओं की जानकारी लेने के दौरान मुख्यमंत्री से दूरभाष पर हुई लंबी चर्चा के दौरान मुख्यमंत्री श्री चौहान को विवाह वर्षगांठ की शुभकामनाएं दी तो श्री चौहान को 2 वर्ष पूर्व की वर्षगांठ की याद ताजा हो गई तब उन्होंने डॉ पांडेय के परिवार के साथ सालगिरह मनाई थी। विधायक डॉ राजेन्द्र पांडेय की भी आज विवाह की सालगिरह है ।आप ने कहा कि वर्तमान विकट परिस्थिति में खुशियां मनाने का अवसर नहीं है, सेवा और मरीजों के उपचार का समय है।

Post a Comment

0 Comments