नायब तहसीलदार की बड़ी कार्यवाही, पांच अनधिकृत चिकित्सक पर गिरी गाज | Nayab tehsildar ki badi karyawahi

नायब तहसीलदार की बड़ी कार्यवाही

दमुआ के पांच अनधिकृत चिकित्सक पर गिरी गाज, क्लिनिक को किया सील

पांच अनधिकृत चिकित्सक पर गिरी गाज

दमुआ (रफीक आलम) - दमुआ के लैब टेक्नीशियन नवीन राय,डा.स्वाति डॉ.राजकुमार राय, डॉ स्वाति राय के लेटर हेड पर स्त्री रोग विशेषज्ञ लिखा हुआ है किंतु इस संबंध में कोई उनके दस्तावेज नहीं है, वही डॉक्टर राजकुमार राय के पास एलोपैथिक इलाज करने के कोई वैद्य दस्तावेज नहीं प्रस्तुत कर पाए एवं नंदन काली छापर के अन्य तीन क्लीनिक क्रमश:बाबूल अधिकारी,यू.के. यूनाती एवं मेवालाल जो अनिधिकृत रुप से एलोपैथिक चिकित्सा पद्धति से इलाज कर रहे थे, मेवालाल एवं बाबुल अधिकारी के यहां एक्सपायरी दवा भी जप्त की गई, एसडीएम मधुवंतराव धुर्वे के निर्देश पर नायब तहसीलदार पूर्णिमा खण्डाइत एवं मेडिकल ऑफिसर डॉ संजय भटकर तथा पुलिस विभाग के सहायक उपनिरीक्षक महेश यूनाती, पटवारी ललित यूनाती द्वारा संयुक्त कार्यवाही कर पंचनामा बनाया गया और सभी पांच क्लिनिक सील करने की कार्यवाही की गई। इनके पास एलोपैथिक पद्धति से इलाज करने के लिए कोई अधिकृत दस्तावेज नहीं मिले, एलोपैथिक दवाई इंजेक्शन की जब्ती बनाई गई, कुछ और अनधिकृत क्लिनिक पर भी कार्यवाही होनी थी लेकिन वह बंद पाए गए, इस तरह के कई अन्य अनिधिकृत क्लिनिक    जो गांव गांव में एलोपैथिक इलाज कर रहे हैं देर सवेर इन पर भी गाज गिर सकती है।

पांच अनधिकृत चिकित्सक पर गिरी गाज

कोरोना ने गांवों में भी पैर पसार दिये है।कोरोना महामारी के इस दौर में समय रहते हुए गांव में जो आरोग्य केंद्र आशा कार्यकर्ता संचालित कर रही है, जिनके पास सर्दी जुकाम बुखार की दवाई रहती है, इन्ही आरोग्य केंद्र में सुविधा बढ़ाने के साथ आशा कार्यकर्ता का प्रशिक्षण शीघ्र कराने की आवश्यकता है, ताकि लक्षण देख कर कोविड19 का प्राथमिक उपचार एवं दवाई उपलब्ध करवा दिया जाये,अन्यथा गांवों में भी भयावह स्थिति  को संभालना मुश्किल हो जायेगा, आज भी दर्जनों गांव रेड जोन एवं ऑरेंज जोन हो चुके हैं, अति शीघ्र गांव को फोकस करना अति आवश्यक है,गांव मैं स्वास्थ्य सुविधा नदारद होने के कारण झोलाछाप डॉक्टर लोगों के जीवन से खिलवाड़ कर रहे हैं।

पांच अनधिकृत चिकित्सक पर गिरी गाज


Post a Comment

0 Comments