नगर कांग्रेस कमेटी ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह और स्वास्थ्य मंत्री पर प्रकरण दर्ज करने दिया ज्ञापन | Nagar congress committee ne mukhyamantri shivraj singh or swasthya mantru pr prakran darj krne diya gyapan

नगर कांग्रेस कमेटी ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह और स्वास्थ्य मंत्री पर प्रकरण दर्ज करने दिया ज्ञापन

छिंदवाड़ा/सिंगोड़ी (शेख जिब्राइल अंसारी) - आज दिनांक 24/05/21 दिन सोमवार को नगर  कांग्रेस कमेटी ने सिंगोड़ी   चौकी प्रभारी को  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी पर निम्न भारतीय दण्ड विधान की धारा 304,420,406,468,124-a और 124 (2) आपदा प्रबंधन की धारा 54 एवं अपाराधिक विधि की संगत धाराओं के अंतर्गत आपराधिक प्रकरण दर्ज कर काठोर कानूनी कार्यवाही कर सजा दिलाने की मांग की।जिसमें नगर ग्रामीण कांग्रेस के नेता डॉक्टर ओमेश शर्मा, आशीष पटेल, विनोद सिंगोरे एडवोकेट आसिफ, गुड्डू, जीतू जैन, रामनाथ जी साहू , विनोद सिंगोरे एडवोकेट ने  बताया कि मध्यप्रदेश मै इस महामारी कै सैकेंड बेव मै मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री ने कोरोना पीडितों के लिए कोई समुचित व्यवस्था नहीं कर पाऐ। और कोरोना पीडितों की दुर्भाग्य पूर्ण मौते होती रही। और इन मौतों के आंकडो को शासन प्रशासन के साथ हेर फेर कर, भ्रमित कर अपनी नाकामियों को छुपाया गया। इसलिऐ इन पर गैर इरादतन हत्या, धोखाधड़ी, कूट रचित कर देशद्रोह, और आपदा प्रबंधन अधिनियम के अंतर्गत अपराध दर्ज कर उन्हें कठोर सजा का प्रावधान किया जाऐ। हर प्रकार से कोविड महामारी की सैकेंड बेव के  लिए मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री प्रभु राम चौधरी इसके लिए पुरी तरह से अपराधी हैं, जहां तक रही सम्माननीय पूर्व मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ जी की तो उन्होने पुरे मध्य प्रदेश मै ही इस महामारी मै बढचढकर लोगों की मदद की है जो जनता ने देखा भी है चाहे रेमडिसिविर हो, दवाऐं हो, वेंटीलेटर हो , आक्सीजन और मध्यप्रदेश के प्रत्येक कांग्रेस विधायकों द्वारा दी गई दो दो एम्बुलेंस हो, रही माननीय पूर्व मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ जी कि उनके ऊपर जो फर्जी एफ आई आर लगाने का ढोंग रचा रहें हैं जो बिल्कुल अनुचित और अव्यवहारिक है उन्होने ऐसा कुछ भी नहीं कहा है जो इन लोगों ने सोच लिया *सैकेंड वैरियंट* कहा है न कि *कौरोना का जन्म* हुआ ये उनके सोचने का और उसको जनता के बीच में परोसने का ढंग है, ये तो उनकी पुरानी आदतें है जो छूट नहीं सकती, लेकिन सही मायने मै तो असली गुनाहगार ये लोग है, जिन्हें, बेरोजगारी, लोगों की लाचारी, लोगों के परिजनों की परेशानी, किस तरह से अकाल मृत्यु हुई, सस्पैक्टेड मृत्यू हुई, अस्पतालों मै मरीजों की लुटने के बाद भी मृत्यु हुई ये नहीं दिखी, कमलनाथ जी ने कौन सा बयान दे रहे हैं और कौन सा बयान हम सार्वजनिक कर सकते हैं यह देखा। जनता सब देख रही है इनकी बदमाशियां। 

ज्ञापन कार्यक्रम को प्रोटोकोल के तहत दिया गया जिसमें नगर कांग्रेश   वरिष्ठ गण  आशीष पटेल  डॉ उमेश शर्मा  आसिफ, गुड्डू रामनाथ जी साहू  जीतू जैन  अन्य लोग उपस्थित रहे।

Post a Comment

0 Comments