चक्रवाती वर्षा ने नदियों मे जमी गंदगी की कुछ हद तक की सफाई | Chakrawati varsh nadiyo main jami gandagi ki kuch had tak ki safai

चक्रवाती वर्षा ने नदियों मे जमी गंदगी की कुछ हद तक की सफाई

परेशान लोगो ने ली राहत भरी सांस

चक्रवाती वर्षा ने नदियों मे जमी गंदगी की कुछ हद तक की सफाई

पांढुर्ना/छिंदवाड़ा (गौरव कोल्हे) - शहर के मध्य बहने वाली नदीयो मे नगर परिषद द्वारा विगत महिनो से गटर एवं नालियों का गंदा पानी जाम कर रखा गया था | जिसमे मुख्यतः चंद्रभागा नदी आती है, इस नदी मे अधिक गंदगी हो जाने के कारण नदी के किनारे रहने वाले लोगो को बहुत परेशानियों का सामना करना पड रहा था जिसके चलते तंग आये लोगो ने गंदगी से निजात पाने एवं नदीयो की सफाई करने के लिए नगर पालिका मे लिखित अपिल भी की थी | वही पिछले कुछ सप्ताह से सोशल मीडिया पर भी यह बात काफी चर्चा मे रही | परन्तु उसका कुछ खास असर देखने को नही मिला |

चक्रवाती वर्षा ने नदियों मे जमी गंदगी की कुछ हद तक की सफाई

इस गम्भीर विषय की जानकारी क्षेत्र के विधायक नीलेश उइके को लगते ही उन्होंने नदियो का जायजा लेने स्वयम आकर नदियों का मुहवना करने पहुचे, जिसे देख उन्होंने गंदगी को लेकर चिंता जाहिर की एवं इसकी जानकारी उच्य अधिकारियों को देकर जल्द से जल्द अभियान चलाकर नदी को स्वच्छ करने का जनता को आश्वाशन दिया गया था, जिसे देख मंगलवार को नपा द्वारा पांच कर्मचारियों की ड्यूटी लगाकर सफाई अभियान चलाया गया, परन्तु गंदगी अधिक होने के चलते पूर्ण सफाई नही हो पायी,

चक्रवात तूफान ने गंदगी एवं बदबू से नगर की जनता को निजात दिलवाई, इस चक्रवात तूफान द्वारा दो दिनों के बारिश के पानी आने से नदियों में पनपी गंदगी कुछ हद तक गंदगी पानी मे बहकर नगर के बाहर चली गयी, जिसके चलते नगर वासीयो को बदबू एवं गंदगी से कुछ राहत मिल पायी परंतु नदी में आज भी कुछ हद तक गंदगी फैली हुई है, अब देखना यह है कि नगर पालिका प्रशासन कब गंदगी से जनता को निजात दिलाने में कारगर कदम उठाएगी |

शाषन द्वारा वाटर हार्वेस्टिंग को नियमित किया गया है, परन्तु नगर पालिका ने आज इस विषय पर ध्यान नही दिया, केवल नदियों के पानी को स्टाप कर हार्वेस्टिंग की योजना बनाई गई है। परन्तु यह योजना लोगो के स्वास्थ को हानि पहुंचा रहा है ।

Post a Comment

0 Comments