पेटलावद नगरीय प्रशासन मस्त और जनता त्रस्त | Petlawad nagriy prashasan mast or janta trast

पेटलावद नगरीय प्रशासन मस्त और जनता त्रस्त

परिषद के जनप्रतिनिधियों को नगर की महत्वपूर्ण आवश्यकता चिकित्सा तथा रोड व्यवस्थाओं हेतु कार्य करना चाहिए

पेटलावद नगरीय प्रशासन मस्त और जनता त्रस्त

पेटलावद (संदीप बरबेटा) -  पेटलावद नगर परिषद  स्वच्छता को लेकर अच्छा कार्य कर रहे हैं, परंतु पेटलावद नगर विगत 2 वर्षों से पूरी तरह  से  धूल मिट्टी से त्रस्त हो गया है,आम जनता प्रतिदिन परेशान हो रही है,विगत 1 वर्ष 6 माह का समय आरो पाइप का कार्य करते हुए बीत गया है,परंतु नल कनेक्शन के लिए खोदा गया गड्ढे जोकि कहीं पर पूरी तरीके से भर दिए गए हैं, तो कहीं पर  उबड़ खाबड़ छोड़ दिया गया है,तथा नगर के कुछ स्थानों  पर खोदे गए गड्ढों  से जल वितरण पाइप के लीकेज  होने के  कारण पानी का अपव्यय भी हो रहा है।

पेटलावद नगरीय प्रशासन मस्त और जनता त्रस्त

आम जनता खोदे गए गड्ढों के कारण उड़ने वाली धूल से पूरी तरीके से परेशान हो गई है, इन गड्ढों के कारण एक्सीडेंट भी हो रहे हैं।

आम जनता का कहना है कि योजनाबद्ध तरीके से  आरो प्लांट कनेक्शन का कार्य नहीं किया गया है इस कारण विगत 1 वर्ष 6 माह बीत जाने पर भी आरो पाइपलाइन का कार्य अपूर्ण है, तथा नगर परिषद अधिकारियों तथा नगर परिषद के जनप्रतिनिधियों  की यह महत्वपूर्ण जिम्मेदारी बनती है कि वह जल्द से जल्द आरो पाइपलाइन कार्य को पूर्ण कर पेटलावद नगर में नालियों का कार्य, डामरीकरण अथवा सीमेंट कंक्रीट सुव्यवस्थित  रोड का निर्माण कार्य  करें।

पेटलावद नगरीय प्रशासन मस्त और जनता त्रस्त

तथा क्षेत्र में कोरोना संक्रमण महामारी के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए भी   पेटलावद नगर परिषद अधिकारियों तथा जनप्रतिनिधियों की यह महत्वपूर्ण जवाबदारी  होती  है कि पेटलावद सिविल हॉस्पिटल को जल्द से जल्द शुरू करने हेतु प्रयास  किया जाए।

वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए आम जनता का कहना है, कि अभी तो नगरिय प्रशासन मस्त है और जनता त्रस्त है।

Post a Comment

0 Comments