वाल्मिकी संगठन ने निगमायुक्त को सौंपा ज्ञापन, कहा ठेका बंद कर पात्र को दी जाये नौकरीयो मे भर्ती | Valmiki sangathan me nigamayukt ko sopa gyapan

वाल्मिकी संगठन ने निगमायुक्त को सौंपा ज्ञापन, कहा ठेका बंद कर पात्र को दी जाये नौकरीयो मे भर्ती

सर्वे अधिकारीयो का हवाला देकर कर्मियों से ले रहे घंटो कार्य जल्द करेंगे बडा आंदोलन

वाल्मिकी संगठन ने निगमायुक्त को सौंपा ज्ञापन, कहा ठेका बंद कर पात्र को दी जाये नौकरीयो मे भर्ती

बुरहानपुर (अमर दिवाने) - आउटसोर्सिंग (ठेका पद्धति) बंद कर पात्र बेरोजगारो को नौकरियो मे भर्ती देने हेतु वाल्मिकी संगठन अध्यक्ष उमेश जंगाले के नेतृत्व मे निगमायुक्त भगवानदास भुमरकर को वाल्मिकी समाज जनो ने सौंपा ज्ञापन। नगर पालिक निगम मे सफाई कार्य से आउटसोर्सिंग (ठेका पद्धति) को जल्द बंद कर वाल्मिकी संगठन द्वारा किए सर्वे अनुसार लोगो को नौकरियो पर रखा जाए या समाज के वह लोग जिनके घर एक भी नौकरी नही है, सर्व प्रथम उन्हे नौकरियां दी जाये। निगमायुक्त भगवानदास भुमरकर के कार्यकाल मे निगम कर्मियों का खुलेआम शोषण किया जा रहा है, अधिकारियों द्वारा सफाई कर्मचारियों को डरा धमकाकर निगम के निर्धारित समय से कई घंटों यह कहकर कार्य लिया जा रहा है,कि बाहर से स्वच्छ सर्वेक्षण सर्वे की टीम आई है। लेकिन वास्तव में सर्वे दल के अधिकारी शहर में कही दिखाई नहीं दे रहे है, इसके साथ ही ठेके मे भारी भ्रष्टाचार किया जा रहा है। 

वाल्मिकी संगठन ने निगमायुक्त को सौंपा ज्ञापन, कहा ठेका बंद कर पात्र को दी जाये नौकरीयो मे भर्ती

कई कर्मियो को बैंक खातो मे वेतन देने के बजाय श्री श्री सांई इंटरप्राइसेस कंपनी द्वारा नगद कम वेतन का भुगतान किया जा रहा है। ठेकेदार एवं निगम अधिकारियो की सांठगांठ और मिली भगत से लोगो के नामो की फर्जी हाजरी भर कर ठेकेदार एवं निगम अधिकारियो ने भारी भ्रष्टाचार किया है। जिसके खिलाफ जल्द ही संगठन बडा आन्दोलन करेंगा। इस दौरान सुमेर जंगालीया, यादव करोसिया सहदेव बोयत, राज चावरे, विनोद चौहान, रंजीत निधाने, बब्बू लोहारे, विजय पथरोल, जेदेव डिगे, मनोज जंगाले सहित अन्य पदाधिकारि मौजूद थे।

Post a Comment

0 Comments