धरमपुरी नगर के राजा 'जागीरदार' श्री बिल्वामृतेश्वर महादेव की शाही सवारी | Dharampuri nagar ke raja jagirdar shri bilwamrateshwar mahadev ki shahi sawari

धरमपुरी नगर के राजा 'जागीरदार' श्री बिल्वामृतेश्वर महादेव की शाही सवारी 

धरमपुरी नगर के राजा 'जागीरदार' श्री बिल्वामृतेश्वर महादेव की शाही सवारी

धरमपुरी (गौतम केवट) - नगर के राजा 'जागीरदार' श्री बिल्वामृतेश्वर महादेव बुधवार को अपनी प्रजा के बीच शाही अंदाज में निकले। भक्तों की भीड़ के बीच जागीरदार ने पूरे नगर का भ्रमण किया व अपने प्राक्टय स्थली बेंट (टापू) पहुंचे। भक्त भी अपने भगवान के दर्शन कर भावविभोर हो गए। धरमपुरी नगर के राजा 'जागीरदार' श्री बिल्वामृतेश्वर महादेव बुधवार को अपनी प्रजा के बीच शाही अंदाज में शाही तरीके से निकले। भक्तों की भीड़ के बीच जागीरदार ने पूरे नगर का भ्रमण किया व अपने स्थली बेंट (टापू) पहुंचे। भक्त भी अपने भगवान के दर्शन कर भय मुक्त हो गए । तहसील कार्यालय से शाही सवारी मार्ग ,मार्ग पर श्रद्धालुओं ने नमन किया । जगह-जगह भोलेबाबा का स्वागत व पूजन किया गया इस वर्ष में मात्र एक दिन अपने घर के आंगन में आए भगवान को देखकर कई श्रद्धालु जागीरदार की धुन में रंग गए। बुधवार को नगर के अधिपति भगवान श्री बिल्वामृतेश्वर महादेव 'जागीरदार' शाही ठाठ-बाट के साथ नगर भ्रमण पर निकले। अपने भगवान की एक झलक पाने सड़कों पर भक्तों का सैलाब उमड़ा। शाही सवारी का आयोजन श्री बिल्वामृतेश्वर महादेव भक्त मंडल व प्रशासन द्वारा संयुक्त रूप से किया गया। कोविड की गाइड लाइन व प्रशासन के निर्देश के चलते शाही सवारी में पिछले वर्षों की तुलना में कम आकर्षण शामिल हुए। बावजूद हजारों की संख्या में श्रद्धालु भगवान के दर्शन के लिए दूर-दूर से पहुंचे। पुलिस व प्रशासन द्वारा नगर में चाक-चौबंद व्यवस्थाए की गई थी। 

धरमपुरी नगर के राजा 'जागीरदार' श्री बिल्वामृतेश्वर महादेव की शाही सवारी

श्री बिल्वामृतेश्वर महादेव के रजत स्वरूप (मुघौटा) तहसीलदार योगेंद्रसिंह मौर्य की उपस्थिति में कोषालय से निकाला गया। तत्पश्चात भगवान को तैयार कर आकर्षक रथ में विराजित किया गया। दोपहर एक बजे भगवान का पूजन व आरती विधायक पांचीलाल मेड़ा, एसडीएम दिव्या पटेल व तहसीलदार योगेंद्रसिंह मौर्य ने की। पुलिस बल द्वारा गार्ड आफ आनर दिया गया। 

धरमपुरी नगर के राजा 'जागीरदार' श्री बिल्वामृतेश्वर महादेव की शाही सवारी

भोले के भजनों पर झूमे युवा

सवारी में शामिल डीजे पर बज रहे भजनों पर युवा जमकर नाचे। खाटू श्याम बाबा, नंदी पर सवार भोलेनाथ, मां भवानी, बाबा महाकाल व अपने दूध से भगवान भोलेनाथ का अभिषेक करती हुई गाय आदि झांकियां शामिल हुईं। करोली से आई परंपरागत ढोल पार्टी, लोक नृत्य दल व ट्रैक्टर-ट्राली पर चल रहा भगवान शिव का नृत्य आकर्षण का केंद्र रहा। स्थानीय युवाओं का झांझ-डमरू दल आनंद दे रहा था। सवारी मार्ग पर तोपों के माध्यम से फूल बरसाए गए।

धरमपुरी नगर के राजा 'जागीरदार' श्री बिल्वामृतेश्वर महादेव की शाही सवारी

जगह-जगह किया गया स्वागत

सवारी मार्ग पर कई संगठनों, समाजों व समाजसेवियों द्वारा मंच लगाकर भगवान भोलेनाथ का स्वागत व पूजन किया गया। विभिन्ना स्टालों के माध्यम से जलपान, फल, दूध आदि की निशुल्क व्यवस्था की गई थी। शासकीय कन्या उमावि, राजपूत समाज, शर्मा परिवार, ब्लाक कांग्रेस, धनगर समाज, संगम मित्र मंडल, पटेल मोहल्ला मित्र मंडल आदि सहित कई समाजसेवियों ने स्वागत मंच लगाकर खाद्य सामग्री का वितरण किया। पूरे सवारी मार्ग पर राजस्व विभाग व पटवारी संघ द्वारा प्रसाद का वितरण किया गया। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के द्वारा पेयजल की व्यवस्था की गई।

Post a Comment

0 Comments