शिवाजी महाराज का सारा जीवन हर भारतवासी के लिए गौरव और प्रेरणा का स्त्रोत: श्रीमती चिटनिस | Shivaji maharaj ka sara jivan har bharatvasi ke liye gourav or prerna ka strot

शिवाजी महाराज का सारा जीवन हर भारतवासी के लिए गौरव और प्रेरणा का स्त्रोत: श्रीमती चिटनिस

शिवाजी महाराज का सारा जीवन हर भारतवासी के लिए गौरव और प्रेरणा का स्त्रोत: श्रीमती चिटनिस

बुरहानपुर (अमर दिवाने) - स्वराज संस्थापक श्री छत्रपति शिवाजी महाराज की 391वें जन्मोत्सव के अवसर पर जिलेभर में आयोजित कार्यक्रम, शोभायात्राओं, आयोजनों मे पूर्व कैबिनेट मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनिस शामिल हुई। श्रीमती चिटनिस ने ग्राम सारोला एवं ग्राम राजोरा में शिवाजी महाराज की प्रतिमा का अनावरण भी किया। उपनगर लालबाग, शाहपुर, फोफनार सहित अनेक स्थानों पर आयोजित कार्यक्रमों में शिरकत कर अपने विचार रखें। ओर मां भारती के अमर सपूत छत्रपति शिवाजी महाराज को उनकी जयंती पर शत-शत नमन किया। उन्होंने कहा कि शिवाजी महाराज के अदम्य साहस, अद्भुत शौर्य और असाधारण बुद्धिमत्ता की गाथा देशवासियों को युगों-युगों तक प्रेरित करती रहेगी।

शिवाजी महाराज का सारा जीवन हर भारतवासी के लिए गौरव और प्रेरणा का स्त्रोत: श्रीमती चिटनिस

एक कुशल शासक, योग्य सेनापति, अदभुत संगठक जिन्होंने सर्वसमावेशी हिंदवी स्वराज की स्थापना हेतु अपना जीवन समर्पित किया। उनका अतुल्य शौर्य सदैव हम सब के लिए प्रेरणादायी रहेगा। छत्रपति शिवाजी ने सूबे-गांव-क्षेत्र और समाज से उपर उठकर देश और भारत भूमि की एकता-अखंडता के लिए जीवन जिया। पराधीनता की मानसिकता को तोड़कर आजाद होने की तमन्ना जगाने में शिवाजी महाराज अग्रणी ही नहीं वरन् संघर्ष कर सम्पूर्ण देश से विदेशी आक्रान्ताओं को खदेड़ा। समय, काल, परिस्थिती अनुसार युद्ध और मैदान को जीतने की रणनीति ने ही शिवाजी को छत्रपति और महाराज बनाया। अपने सहयोगियों पर विश्वास और मां के मार्गदर्शन से ही उन्होंने हर जंग को जीता।

शिवाजी महाराज ने हमेशा जनहित, राजहित और राष्ट्रहित में काम किया। उनका सारा जीवन हर भारतवासी के लिए गौरव और प्रेरणा का स्रोत है।

Post a Comment

0 Comments