मीडिया जगत लोकतंत्र का रक्षक है, लेकिन आज यह स्तम्भ हर स्तर पर उपेक्षा का शिकार है | Media jagat loktantr ka rakshak hai

मीडिया जगत लोकतंत्र का रक्षक है, लेकिन आज यह स्तम्भ हर स्तर पर उपेक्षा का शिकार है

मध्यप्रदेश श्रमजीवी पत्रकार संघ के कार्ड वितरण समारोह में श्री जोशी ने कहा 

मीडिया जगत लोकतंत्र का रक्षक है,लेकिन आज यह स्तम्भ हर स्तर पर उपेक्षा का शिकार है

रतलाम (यूसुफ अली बोहरा) - मध्यप्रदेश श्रमजीवी पत्रकार संघ केे वरिष्ठ मुख्य कार्यकारी अध्यक्ष शरद जोशी ने कहा कि लोकतंत्र की मजबूती के लिए पत्रकारों को जागरूक और एकजुट होना जरूरी है। एकजुटता के अभाव में पत्रकारों को कई बार अपमानित होना पड़ता है और उसी के कारण पत्रकारों केे सम्मान को ठेस भी पहुंचती है। मीडिया जगत लोकतंत्र का रक्षक है वहीं जनता की आशा और अकंक्षाओं को ध्यान में रखने वाला चौथा स्तम्भ भी, लेकिन आज यह स्तम्भ हर स्तर पर उपेक्षा का शिकार है। 

श्री जोशी ने यह बात रतलाम शहर के सदस्यों के कार्ड वितरण समारोह में कही। कंकुमत्रम मांगलिक भवन में आयोजित इस कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि मीडिया संगठनों की आड़ में धंधेबाजी कर रहे लोगों पर अंकुश लगाना जरूरी है और यह काम मीडिया जगत को ही करना पड़ेगा, क्योंकि शासन-प्रशासन इस दिशा में सक्रिय नहीं है। यहां तक कि शासन का ही एक विभाग बिना पड़ताल केे ही पत्रकारों केे संगठन का मिलते-जुलते नाम सेे पंजीयन कर पत्रकारों को आपस में लड़वाने का कार्य कर रहा है। वह यह भी पड़ताल नहीं करता है कि पंजीयन करवाने वाले लोग असल में पत्रकार है कि भी नहीं। 

उन्होंने यह भी कहा कि दलाल की भूमिका निभाने वाले कतिपय लोग नामधारी पत्रकार बनकर अफसरों पर काम के लिए प्रेेशर बनाते है। पिछले दिनों कई स्थानों पर ऐसे कई लोगों के प्रकरण प्रकाश में आए है, जो किसी न किसी रुप में पत्रकारिता को कलंकित कर रहे है। 

श्री जोशी ने कहाकि पत्रकार हमेशा वीआईपी दौरे के दौरान अपमानित होते है। हालही में मुख्यमंत्री के दौरे के समय भी उनसे चर्चा के लिए तथा ज्ञापन देेने के लिए पत्रकारों को भटकना पड़ा। भविष्य में ऐसा न हो इसकेे लिए संगठन स्तर पर प्रयास किए जाएंगे। 

प्रांतीय उपाध्यक्ष ऋषिकुमार शर्मा ने कहा कि संगठन उन्ही लोगों को सदस्यता प्रदान करता है जो पत्रकारिता में सक्रिय है और जिनका कलम सेे वास्ता है। संगठन के सदस्यों को चाहिए कि वह गतिविधियों में सक्रिय रहेे ताकि संगठन शक्ति केे रुप में उभर सके। 

संभागीय उपाध्यक्ष राजेश जैन ने भी पत्रकारों के समक्ष आ रही कठिनाईयों का जिक्र किया और कहा कि पत्रकार सम्मानपूर्वक अपने कर्तव्य का निर्वहन करें, जो जिम्मेदारी उन्होंने उठाई है वह किसी लाभ की दृष्टि से नहीं बल्कि समाजसेवा की दृष्टि से वेे पत्रकारिता के  क्षेत्र में आए है, हमें यह समझना होगाा। उन्होंने पत्रकारों के साथ हाल ही में हुए मामलों का जिक्र भी किया। 

अंत में आभार महासचिव दिनेश दवेे ने व्यक्त किया। इस अवसर पर आरिफ कुरैशी, नीरज शुक्ला, इंगित गुप्ता, गौवर्धन चौहान, करणधीर बडग़ोत्या, हिरेन्द्र परमार, निलेश बाफना, हेमंत भट्ट, अजयकांत शुक्ला, हेेरंभसिंह, नयन व्यास, दिलीप जोजफ, रवि सिसौदिया, दुर्गेेश पंवार, रईस खान, प्रवीण दीक्षित, डी.पी.सिंह, शाहिद मीर, शैलेन्द्र पारे, मोहम्मद हुसैन सहित सदस्य पत्रकारगण उपस्थित थे। जो सदस्य उपस्थित नहीं हो पाए थे उनकेे कार्डों का भी वितरण किया गया।

Post a Comment

0 Comments