गेहूं भंडारण के लिए आलोट, जावरा क्षेत्र में निर्माण किए जाएंगे | Gehu bhandaran ke liye alot javra shetr main nirman kiye jaenge

गेहूं भंडारण के लिए आलोट, जावरा क्षेत्र में निर्माण किए जाएंगे

कलेक्टर श्री डाड ने समय सीमा पत्रों की समीक्षा बैठक में दिए निर्देश

रतलाम (यूसुफ अली बोहरा) - समय सीमा पत्रों की समीक्षा बैठक सोमवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में संपन्न हुई। बैठक में कलेक्टर श्री गोपालचंद्र डाड ने जिले के जावरा तथा आलोट एसडीएम को निर्देशित किया कि उनके क्षेत्रों में समर्थन मूल्य पर उपार्जित गेहूं के भंडारण के लिए कैप निर्मित किए जाएंगे जिनकी क्षमता लगभग पचास हजार मैट्रिक टन की होगी। निर्मित किए जाने हेतु भूमि चिन्हित की जाए। बैठक में अपर कलेक्टर श्रीमती जमुना भिड़े, सीईओ जिला पंचायत श्री संदीप केरकेट्टा तथा जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

कलेक्टर ने बैठक में निर्देश दिए कि गेहूं उपार्जन के लिए पंजीयन आरंभ किया जा चुका है, किसान पंजीयन गंभीरता के साथ करवाया जाए। जिले में आगामी दिनों मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के भ्रमण के दृष्टिगत कलेक्टर द्वारा सभी अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि अपने विभाग से संबंधित भूमिपूजन, लोकार्पण के प्रस्ताव शीघ्र भिजवाएं। नगर निगम कार्यों की समीक्षा के दौरान निगम आयुक्त द्वारा बताया गया कि अरिहंत परिसर में पैचवर्क तथा नाली सुधार का कार्य आरंभ कराया जाएगा। कलेक्टर द्वारा जिले के सभी एसडीएम को निर्देशित किया गया कि जनहित में किसी भी शिकायत पर अधिकारी मौका निरीक्षण करें, साथ ही शिकायतकर्ता का स्टेटमेंट लेवे।

बैठक में एसडीओ वन द्वारा बताया गया कि वन विभाग द्वारा जिले में चार गौशालाएं बनाई जाएंगी। जिले के ग्राम पलसोडी, बाजना के इमलीपाड़ा, सैलाना के बासिंद्रा तथा पिपलोदा के बड़ौदा ग्राम में गौशाला निर्मित की जाएंगी। इसके लिए वन विभाग को शासन द्वारा 1 करोड़ 20 लॉख रुपए आवंटित किए गए हैं। कलेक्टर द्वारा अन्य मुद्दों पर भी समीक्षा की गई। इसके अलावा कलेक्टर द्वारा आगामी 27 जनवरी को नशामुक्त भारत अभियान के तहत ऑनलाइन शपथ दिलाने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को ऑनलाइन नशा मुक्ति शपथ दिलाई जाए।

Post a Comment

0 Comments