धान उठाव मैं आनाकानी खुले में बोरो की भीगने की आशंका | Dhan uthao main anakani khule main boro ki bhigane ki ashanka

धान उठाव मैं आनाकानी खुले में बोरो की भीगने की आशंका 

मिलर्स को खरीदी केंद्रों से करना है धान का उठाव, सामान्य उठाव भी धीमा

धान उठाव मैं आनाकानी खुले में बोरो की भीगने की आशंका

जबलपुर (संतोष जैन) - मिलस  खरीदी केंद्रों से सीधे धान उठाव की प्रक्रिया में अभी भी आनाकानी कर रहे हैं अभी तक करीब 15 हजार मैट्रिक टन धान का उठाव हुआ है जबकि एग्रीमेंट 50 हजार मैट्रिक टन का हुआ है ऐसे में धान गोदामों में ही भेजा जा रहा है इस विषय में कलेक्टर कर्मवीर शर्मा दो बार मिलर्स के साथ बैठक कर चुके हैं उन्होंने आनाकानी करने वाले मिलर्स की मिलों को सील करने तक की चेतावनी दी है इस काम को खरीदी एजेंसी जिला विपणन संघ को  कराना है परिवहन का खर्चा बचाने के लिए शासन की योजना के तहत खरीदी केंद्रों से सीधे धान का उठाव करेंगे फिर उसी का चावल गोदामों में जमा करेंगे काफी संख्या में मिलर्स ने प्रशासन को आश्वस्त किया था कि वे धान का उठाव करेंगे बुधवार को इसके लिए कलेक्टर कर्मवीर शर्मा ने दूसरी बार मीटिंग की थी पहली बार में मिलस के साथ 50 हजार मैट्रिक टन का एग्रीमेंट हुआ है लेकिन इसे बढ़ाकर करीब 90 हजार मैट्रिक टन किया जाना है


 सामान्य उठाव भी धीमा


 मिलर्स के साथ सामान्य परिवहन भी ठीक नहीं है तीन लाख 45 लाख मैट्रिक टन खरीदी की तुलना में परिवहन करीब दो लाख 96 हजार मैट्रिक टन धान का हो सका है 50 हजार मैट्रिक टन धान अभी भी खरीदी केंद्रों पर रखा है आए दिन मौसम में बदलाव हो रहा है इससे धान की गुणवत्ता प्रभावित होती है

Post a Comment

0 Comments