दक्षता उन्नयन परीक्षा की जारी त्रुटिपूर्ण सूची का विरोध, षिक्षकों ने दर्ज करवाई आपत्ति | Dakshata unnayan pariksha ki jari trutipirn suchi ka virodh

दक्षता उन्नयन परीक्षा की जारी त्रुटिपूर्ण सूची का विरोध, षिक्षकों ने दर्ज करवाई आपत्ति

दक्षता उन्नयन परीक्षा की जारी त्रुटिपूर्ण सूची का विरोध, षिक्षकों ने दर्ज करवाई आपत्ति

आलीराजपुर (रफीक क़ुरैशी) - आयुक्त लोक षिक्षण संचालनालय भोपाल के विगत दिनों जारी किए गए आदेषानुसार सत्र 2019-20 के हाई स्कूल-हा0से0 की परीक्षा में प्राप्त परिणाम के आधार पर 40 प्रतिषत से कम परिणाम देने वाले स्कूलों की केचमेन्ट माध्यमिक शालाओं के षिक्षकों की दक्षता उन्नयन परीक्षा हेतु सूची 31 दिसम्बर को जारी की गई। जिसके अवलोकन से ज्ञात हुआ कि हाई स्कूल-हा.से. के परिणाम में स्वाध्यायी छात्रों को जोडतें हुवे राज्य स्तर से परिणाम की गणना की गई है। जिसके कारण षिक्षकों को अनावष्यक रूप से परीक्षा में सम्मिलित होने हेतु बाध्य किया जा रहा है। साथ ही विषयवार परिणाम का अवलोकन करने पर भी कई ऐसे षिक्षक थे। जिन्होंने उत्कृष्ट परिणाम दिए है-उन्हें भी इस सूची में शामिल किया गया है। जबकि शालाओं में षिक्षकों की पर्याप्तता न होने एवं अन्य गैर षिक्षकीय कार्य में संलग्न किये जाने के बावजूद भी षिक्षकों द्वारा अपने कार्य दायित्वों का निर्वहन बखूबी किया जा रहा है। जिन षिक्षकों का परीक्षा परिणाम मापदण्ड से उपर है तथा जो सेवानिवृत्ति के करीब है-उन्हें इस तरीके से परीक्षा में शामिल कराकर अपमानित करने जैसे कृत्य आदि मुद्दों पर मप्र षिक्षक संघ के जिला पदाधिकारियों ने आपत्ति दर्ज करवाते हुए जिला षिक्षा अधिकारी संजयसिंह तोमर से चर्चा की एवं अवगत करवाया कि षिक्षक संघ के प्रांतीय प्रतिनिधि मण्डल ने षिक्षा मंत्री इन्दरसिंह परमार से चर्चा की गई। जिसके परिणाम स्वरूप त्रुटिपूर्ण तरीके से सम्मिलित किये गये नामों पर षिक्षकों से तथ्यपरक जानकारी के आवेदन प्राप्त कर उनके नाम हटाये जाने के निर्देष दिए गए होने की जानकारी दी गई। जिस पर जिला षिक्षा अधिकारी द्वारा तुरंत कार्यवाही करते हुए संभाग एवं प्रांतीय स्तर पर विभागीय संपर्क करते हुए जानकारी प्राप्त की गई एवं तदनुसार षिक्षकों से मौके पर ही आवेदन प्राप्त कर समिति का गठन किया गया। आवेदनों का परीक्षण कर उसकी वास्तविकता के आधार पर नाम हटाये जाने के निर्देष अपने अधिनस्थ को दिए। संगठन के संरक्षक बीके शर्मा, संयोजक प्रतापसिंह भूरिया, जिलाध्यक्ष हेमंत सिसोदिया, जिला सचिव शैलेन्द्रसिंह सोलंकी, तहसील अध्यक्ष विकास वाम्बोरकर, नगर अध्यक्ष संतोष वर्मा सहित पदाधिकारियों ने षिक्षा अधिकारी का आभार प्रकट किया। इस अवसर पर राजेष आर.वाघेला, सुदेष वाघेला संतोष राठौड, विनय चंदेल, सरदार गवले, मुकाम रावत, बहादुर गुथरिया, रंजीत डावर, विक्रम बघेल, त्रिवेणी चोहान, रीना वाघेला, संगीता चावडा आदि उपस्थित थे।

Post a Comment

0 Comments