वैष्‍णो देवी मंदिर परिसर में बिछी बर्फ की चादर | Vaishno devi mandir parisar main bichhi barf ki chadar

वैष्‍णो देवी मंदिर परिसर में बिछी बर्फ की चादर

रोज आ रहे हैं 10 हजार श्रद्धालु

वैष्‍णो देवी मंदिर परिसर में बिछी बर्फ की चादर

कोरोना महामारी के कारण माता वैष्णो देवी की यात्रा में आई कमी के बाद अब फिर श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ रहा है। मौजूदा समय में भी देशभर से करीब दस हजार श्रद्धालु रोजाना दर्शन के लिए कटड़ा पहुंच रहे हैं। माता वैष्णो देवी के भवन से लेकर आद्कुंवारी तक हुई मौसम की पहली बर्फबारी से पूरे पहाड़ बर्फ से ढक गए हैं। यात्रा मार्ग पर बर्फबारी होने से ठंड के साथ फिसलन भी बढ़ गई है। ऐसे में श्राइन बोर्ड ने पूरे इंतजाम कर रखे हैं। यात्रा मार्ग पर जगह-जगह आग भी जलाई जा रही है। इसके अलावा कटड़ा, आद्कुंवारी व भवन पर श्राइन बोर्ड के विश्रामघरों में ठहरने, गर्म पानी व कंबल इत्यादि के अतिरिक्त बंदोबस्त किए गए हैं। भोजनालय में भी पूरे प्रबंध किए गए हैं। बर्फबारी के बाद आपदा प्रबंधन दल के साथ ही श्राइन बोर्ड प्रशासन पूरी तरह से सतर्क हो गया है। श्रद्धालुओं के लिए कोरोना टेस्ट अनिवार्य किया गया है। श्रद्धालुओं की रिपोर्ट 72 घंटे तक मान्य है। श्रद्धालु टेस्ट करवा कर आएं, नहीं तो जम्मू कश्मीर में भी कई जगह व्यवस्था की गई है।

ट्रेन से आने वाले श्रद्धालु कटड़ा रेलवे स्टेशन पर टेस्ट करवा सकते हैं। हवाई जहाज से आने वाले श्रद्धालु जम्मू एयरपोर्ट और सड़क मार्ग से आने वालों के लिए प्रवेशद्वार लखनपुर और जम्मू-कटड़ा मार्ग पर मेरी चेक पोस्ट के पास निशुल्क व्यवस्था की गई है। श्राइन बोर्ड, सीईओ रमेश कुमार का कहना है कि बर्फबारी और कोरोना को देखते हुए श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए पूरे प्रबंध किए गए हैं। मौजूदा समय में यात्रा में बढ़ोतरी हुई है। उम्मीद है कि आने वाले दिनों में श्रद्धालुओं की संख्या और बढ़ेगी।

Post a Comment

0 Comments