भोपाल में 75 फीसद लेन-देने आरटीजीएस से, अब व्यापारियों को मिलेगी राहत | Bhopal mainn75 fisdi len den rtgs se

भोपाल में 75 फीसद लेन-देने आरटीजीएस से, अब व्यापारियों को मिलेगी राहत

भोपाल में 75 फीसद लेन-देने आरटीजीएस से, अब व्यापारियों को मिलेगी राहत

भोपाल (ब्यूरो रिपोर्ट) - भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआइ) ने आरटीजीएस (रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट) सुविधा 24 घंटे के लिए शुरू कर दी है। आज मध्‍यरात्रि से इस सुविधा की शुरुआत हो गई। लिहाजा, भोपाल के कारोबारियों को इसका खासा लाभ होगा, क्योंकि वे 75 फीसद तक लेन-देन इसी तरीके से करते हैं।

थोक किराना कारोबारी अनुपम अग्रवाल बताते हैं कि वर्तमान में बैंक समय तक ही उक्त व्यवस्था मिल पाती थी। यदि किसी व्यापारी को भुगतान करने में देरी हो जाती है तो बात अगले दिन पर पहुंच जाती है। ऐसे में कई बार सौदे निरस्त तक हो जाते थे। अब पूरे समय सुविधा मिलने से व्यापारियों को दिक्कतें नहीं होंगी। वर्तमान में 75 फीसद तक लेन-देन आरटीजीएस से ही होता है।

ऑनलाइन प्रक्रिया से कभी भी कर सकेंगे लेन-देन

बैंक से जुड़े जानकारों के अनुसार अब व्यापारियों को आरटीजीएस प्रक्रिया के लिए बैंकों में नहीं जाना पड़ेगा। वे निर्धारित प्रक्रिया का पालन करते हुए ऑनलाइन तरीके से ही सुविधा का लाभ ले सकेंगे। बता दें कि भोपाल में 41 निजी एवं शासकीय बैंक हैं, जिनकी कुल 516 शाखाएं हैं।

इन कारोबारियों को फायदा अधिक

राजधानी में 375 से ज्यादा थोक किराना दुकानें हैं। जहां से हर रोज शहर समेत आसपास के जिलों में 200 टन तक किराना सामग्री सप्लाई की जाती है। प्रतिदिन करोड़ों में कारोबार होने से वित्‍तीय लेन-देन के लिए आरटीजीएस सुविधा ही बढ़िया माध्यम रहती है। इसलिए किराना कारोबारी एक-दूसरे को रकम का भुगतान इस माध्यम से करते हैं। सुविधा में बढ़ोतरी होने से सबसे अधिक इन कारोबारियों को फायदा होगा। इसके अलावा सराफा, कपड़ा, इलेक्ट्रॉनिक आदि कारोबारियों को भी बड़ी राहत मिलेगी।

Post a Comment

0 Comments