सूदखोरों ने एक लाख के डेढ़ लाख रुपए ले लिए, फिर भी मकान पर कब्जा कर लिया | Sudkhoro ne 1 lakh ke ded lakh rupye le liye

सूदखोरों ने एक लाख के डेढ़ लाख रुपए ले लिए, फिर भी मकान पर कब्जा कर लिया

जिला प्रशासन ने आवेदक की शिकायत पर घर का कब्जा फिर से दिलवाया, पीड़ित की  दिवाली मनवाई 

सूदखोरों ने एक लाख के डेढ़ लाख रुपए ले लिए, फिर भी मकान पर कब्जा कर लिया

उज्जैन (रोशन पंकज) - यंत्र महल जयसिंह पुरा निवासी श्रीमती संतोष बाई  पति चिंतामणि माली की दीवाली  सूनी  सूनी   जा रही थी  ।जिस मकान को उन्होंने बड़े   जतन  से  अपनी गाढ़ी कमाई से खरीदा था ।उस मकान पर सूदखोरों ने कब्जा कर उनको  घर  से  बाहर  निकाल   दिया  था । संतोष   बाई व  उनके पति के साथ अभद्र व्यवहार एवं मारपीट  अलग से  की गई  ।

सूदखोरों ने एक लाख के डेढ़ लाख रुपए ले लिए, फिर भी मकान पर कब्जा कर लिया

        सूदखोरों  की शिकायत के संदर्भ में कलेक्टर  श्री  आशीष सिंह द्वारा नियुक्त किए गए नोडल अधिकारी एडीएम श्री नरेंद्र सूर्यवंशी को  श्रीमती  संतोष बाई ने  लिखित में शिकायत की कि उनके पति  चिंतामन माली ने  जयसिंह पुरा में 3 / 1-नंबर  का मकान क्रय किया था । इसके लिए उन्होंने जयसिंह पुरा के ही निवासी संतोष माली व कालूराम  से एक लाख  रु  ब्याज पर उधार लिए थे। जिसके एवज में जून 2017 तक उनके द्वारा डेढ़ लाख रुपए चुका भी दिए गए ।किंतु उसके बाद भी सूदखोरों का पेट नहीं भरा और उन्होंने संतोष पति चिंतामन के मकान पर बलात कब्जा कर  उनको घर से निकाल दिया । संतोष  बाई  ने मकान  क्रय करने के प्रमाण तथा ऋण के पेटे चुकाई गई राशि की  रसीदे  एडीएम को प्रस्तुत  करते  हुए सूदखोरों  की  शिकायत  दर्ज  करवाई  । एडीएम ने क्षेत्र के नायब तहसीलदार से जांच करवाई और जांच में पाया गया कि संतोष   बाई की शिकायत  जायज है ।



       आज धनतेरस के दिन कलेक्टर श्री  आशीष सिंह  एवं पुलिस अधीक्षक  श्री  सत्येंद्र कुमार शुक्ल के निर्देश पर एडीएम श्री नरेंद्र  सूर्यवंशी  व  एएसपी श्री अमरेंद्र सिंह ने पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचकर श्रीमती संतोष बाई पति चिंतामन को उनके मकान का कब्ज़ा दिलवाया  और  संवेदनशील जिला एवम  पुलिस  प्रशाशन  ने उनके घर में जाकर धनतेरस की दिए  जलवाए । इस तरह संतोष भाई को अपने मकान में फिर से पहुंचने का सुख मिला ।  प्रशाशन   द्वारा  सूदखोरों  के विरुद्ध विभिन्न धाराओं में  कड़ी  वैधानिक कार्रवाई  भी  की  जा   रही है ।


Post a Comment

0 Comments