मल्लखंब को शिक्षा विभाग में शामिल किये जाने हेतु योजना बनाई जायेगी - मंत्री श्री परमार | Malkhamb ko shiksha vibhag main shamil kiye jane hetu yojna banai jaegi

मल्लखंब को शिक्षा विभाग में शामिल किये जाने हेतु योजना बनाई जायेगी - मंत्री श्री परमार

मंत्री श्री परमार ने मल्लखंब प्रशिक्षक योगेश मालवीय को सम्मानित किया

मल्लखंब को शिक्षा विभाग में शामिल किये जाने हेतु योजना बनाई जायेगी - मंत्री श्री परमार

उज्जैन (रोशन पंकज) - शनिवार को मध्य प्रदेश शासन के स्कूल शिक्षा (स्वतंत्र प्रभार) एवं सामान्य प्रशासन राज्य मंत्री श्री इंदरसिंह परमार ने लोकमान्य तिलक विद्यालय के सभाकक्ष में मल्लखंब प्रशिक्षक श्री योगेश मालवीय को सम्मानित किया। उल्लेखनीय है कि श्री मालवीय को हाल ही में मल्लखंब में द्रोणाचार्य पुरस्कार प्राप्त हुआ है।

मल्लखंब को शिक्षा विभाग में शामिल किये जाने हेतु योजना बनाई जायेगी - मंत्री श्री परमार

मंत्री श्री परमार ने इस दौरान कहा कि श्री योगेश मालवीय ने राष्ट्रीय स्तर पर मल्लखंब में द्रोणाचार्य पुरस्कार प्राप्त करके केवल उज्जैन की धरती का ही नहीं, बल्कि पूरे मध्य प्रदेश की धरती का नाम राष्ट्रीय स्तर पर रोशन किया है। उज्जैन नगरी श्रीकृष्ण की विद्यास्थली है। यहां विद्या के साथ-साथ अन्य कलाओं में भी विद्यार्थियों को निपुण किया जाता था। कुछ समय से मल्लखंब लुप्त होता जा रहा था, लेकिन श्री मालवीय ने उसे पुन: मुख्यधारा में लाने का काम किया है। मंत्री श्री परमार ने कहा कि मल्लखंब को शिक्षा विभाग में शामिल किये जाने के लिये शासन द्वारा विधिवत योजना बनाई जायेगी। मंत्री श्री परमार ने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति देश के एकीकरण में मील का पत्थर साबित होगी। स्कूलों के विद्यार्थी अच्छी शिक्षा ग्रहण करें और आगे चलकर समाज, प्रदेश और देश का नाम रोशन करें। मंत्री श्री परमार ने श्री योगेश मालवीय को अपनी ओर से शुभकामनाएं दी।

कार्यक्रम में श्री योगेश मालवीय ने कहा कि इस सम्मान को प्राप्त करने में उन्होंने कई वर्षों की साधना की है। मल्लखंब को बढ़ावा देने और इसके खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने के लिये शासन द्वारा निरन्तर प्रयास किये जा रहे हैं।


इस दौरान जिला शिक्षा अधिकारी सुश्री रमा नाहटे, श्री सोनू गेहलोत, श्री भरत व्यास, श्री किशोर खंडेलवाल, श्री गिरीश भालेराव, श्री मुकेश उमठ, समस्त शिक्षकगण एवं अन्य गणमान्य नागरिक मौजूद थे। अतिथियों द्वारा सर्वप्रथम मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण और दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया गया। इसके पश्चात मंत्री श्री परमार द्वारा श्री योगेश मालवीय को शाल, श्रीफल, प्रशस्ति-पत्र और चेक भेंटकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में स्वागत भाषण लोकमान्य तिलक विद्यालय के प्राचार्य श्री अरूण शुक्ला ने दिया। कार्यक्रम का संचालन श्री सुनील शर्मा ने किया और आभार प्रदर्शन श्री आदित्य नामजोशी ने किया।

Post a Comment

0 Comments