पुलिस स्मृति दिवस पर शहीद पुलिस अफसर एवं जवानों को श्रृध्दासुमन अर्पित किये गये | Police smrati divas pr shahid police afser evam javano ko

पुलिस स्मृति दिवस पर शहीद पुलिस अफसर एवं जवानों को श्रृध्दासुमन अर्पित किये गये

पुलिस स्मृति दिवस पर शहीद पुलिस अफसर एवं जवानों को श्रृध्दासुमन अर्पित किये गये

बुरहानपुर। (अमर दिवाने) - आज ही के दिन 21 अक्तूबर 1959 को लद्दाख के बर्फीले वॉर फील्ड हॉट स्प्रिंग में चीन की सेनाओं ने अचानक हमला बोल दिया था। उस वक्त पोस्ट पर सेना व बी एस एफ न होकर केन्द्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स (सीआरपीएफ) के 10 जवानों की टुकडी तैनात थी। चीनी सेना की टुकडी अधिक एवं अत्याधुनिक हथियारों से लैस थी, लेकिन सीआरपीएफ के जवान पीछे हटने की बजाय डटे रहे एवं पोस्ट की रक्षा के लिये शहीद हो गये, बाद में सेना की टुकडी द्वारा मोर्चा संभाला गया।

पुलिस स्मृति दिवस पर शहीद पुलिस अफसर एवं जवानों को श्रृध्दासुमन अर्पित किये गये

सीआरपीएफ की टुकडी ने शहादत देकर देश की पोस्ट को चीन के हाथों में जाने से बचा लिया, तब से प्रतिवर्ष पुलिस फोर्सेज 21अक्तूबर को शहीद दिवस के रूप में मनाते हैं।

इन 61 वर्षों में पुलिस की शहादत का सिलसिला थमा नहीं है, अब तक देश में 3732 अफसर व जवान शहीद हो चुके हैं। पिछले साल देश में 264 पुलिस अफसर व जवानों ने शहादत दी है।

जिला पुलिस बुरहानपुर द्वारा भी स्मृति दिवस मनाया गया, सर्वप्रथम पिछले साल से अब तक शहीद हुए जवानों के नाम पुलिस अधीक्षक राहुल कुमार लोढा द्वारा पढे गये, उसके बाद परेड कमांडर सूबेदार राधा यादव, परेड टूआईसी सूबेदार दीपाली सहारिया एवं शहीद दिवस परेड द्वारा शहीदों को सलामी दी गई। उसके पच्छात आमंत्रित गणमान्य नागरिक वी एस पाटीदार जिला सत्र न्यायाधीश, प्रवीण कुमार जिला कलेक्टर, राहुल कुमार लोढा पुलिस अधीक्षक, आर के पाटीदार ए डी जे, धीरेन्द्र सिंह मंडलोई सी जे एम, एम पी गर्ग सीएमएचओ, दिनेश यादव एसडीओ फॉरेस्ट, अभिषेक दीवान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, बी पी वर्मा नगर पुलिस अधीक्षक, यशपाल सिंह ठाकुर एसडीओपी नेपानगर, गोपाल चौधरी जिला खेल अधिकारी,  जिला बुरहानपुर के सभी थाना प्रभारी, बुरहानपुर पुलिस के अन्य अधिकार एवं कर्मचारी व संतोष सिंह ठाकुर एनसीसी ऑफिसर, पी के मुक्ती एनसीसी ऑफिसर, मो.अनीस एनसीसी ऑफिसर  आदि के द्वारा श्रृध्दासुमन अर्पित किये गये। अंत में स्मारक को सलामी दी गई, परेड के स्मारक से गुजरने के बाद कार्यक्रम का समापन हुआ। कार्यक्रम का संचालन शिक्षक संजय गुप्ता द्वारा किया गया। कार्यक्रम को सफल बनाने में सूबेदार हेमंत पाटीदार, सूबेदार रीना सोलंकी एवं पउनि. अलीमउद्दीन का महत्वपूर्ण योगदान रहा।

Comments

Popular posts from this blog

पंचायत सचिवों को मिलने जा रही है बड़ी सौगात, चंद दिनों का और इंतजार intjar Aajtak24 News