पातालकोट के आदिवासी ग्रामीणों का आय का साधन बना सीताफल | Patalkot ke adivasi gramino ka aay ka sadhan bana sitafal

पातालकोट के आदिवासी ग्रामीणों का आय का साधन बना सीताफल

पातालकोट के आदिवासी ग्रामीणों का आय का साधन बना सीताफल

तामिया (दिनेश नागवंशी) - कोविड 19 महामारी के चलते ग्रामीण छेत्रो में रोजगार के संकट खड़ा हो गया था। लेकिन गुलाबी ठंड के आते ही तामिया पातालकोट के ग्रामीण आदिवासी छेत्रो में सीताफल की बम्फर आबक से रोजगार तो मिला ही है साथ ही ग्रामीणों की आय भी दुगनी हुई है। हर्राढाना निवासी महिला ने बताया कि अभी बाजार नही लग रहे हैं ऐसे में हम सड़क किनारे ही दुकान लगाकर सीताफल बेचते हैं जिससे घर का खर्च चल रहा है।वही ग्रामीण देवीसिंह भलावी ने बताया की खेती किसानी के साथ साथ खेत मे लगे बगीचे में सीताफल पक कर तैयार हो गए हैं ऐसे में बाज़ार नही लगने से सड़क किनारे ही बेच रहे हैं जिससे परिवार चल रहा है।

Comments

Popular posts from this blog

पंचायत सचिवों को मिलने जा रही है बड़ी सौगात, चंद दिनों का और इंतजार intjar Aajtak24 News