मंत्री श्री कावरे ने चिचगांव में गौशाला का किया भूमिपूजन | Mantri shri kavre ne chichganv main goshala ka kiya bhumipuja

मंत्री श्री कावरे ने चिचगांव में गौशाला का किया भूमिपूजन

37 लाख रुपये की लागत से बनेगी गौशाला

मंत्री श्री कावरे ने चिचगांव में गौशाला का किया भूमिपूजन

बालाघट (देवेंद्र खरे) - ग्राम चिचगांव में गौशाला का निर्माण होने से इस ग्राम के लागों को गौसेवा का अवसर मिलेगा और गौसेवा के साथ ही गांव में रोजगार के नये अवसर भी मिलेगें। 

मंत्री श्री कावरे ने चिचगांव में गौशाला का किया भूमिपूजन

ग्राम चिचगांव की पावन धरा पर गौशाला का निर्माण होना एक अच्छा कदम है। गौशाला का निर्माण कार्य समय सीमा में एवं गुणवत्ता के साथ किया जायेगा। यह बातें मध्यप्रदेश शासन के राज्य मंत्री आयुष (स्वतंत्र प्रभार) एवं जल संसाधन विभाग श्री रामकिशोर “नानो’’ कावरे ने आज 08 अक्टूबर को ग्राम चिचगांव में गौशाला निर्माण के भूमिपूजन कार्यक्रम में ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कही। 

ग्राम चिचगांव में आयोजित कार्यक्रम में जिला पंचायत प्रधान श्रीमती रेखा बिसेन, जनपद पंचायत बालाघाट के प्रधान श्री पूरनलाल ठाकरे, कलेक्टर श्री दीपक आर्य, पुलिस अधीक्षक श्री आशुतोष तिवारी, जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती उमा माहेश्वरी, जनपद पंचायत बालाघाट के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री गायत्री कुमार सारथी, उप संचालक पशु चिकित्सा सेवायें डॉ पी के अतुलकर, सतीश लिल्हारे, जनपद सदस्य श्रीमती लक्ष्मी आतिश लिल्हारे, चिचगांव सरपंच श्रीमती पुरवंता उमराव पांचे, श्री राजेंद्र सिंह ठाकुर, दिलीप चौरसिया, संजय खंडेलवाल, हेमेंद्र क्षीरसागर, महेश शरणाणत, ठानेंद्र छोटू पटले, संतोष शुक्ला, हेमंत राणा, सुरेंद्र गुड्डा चौधरी, अनिल नगपुरे और देवलाल भगत समेत ग्रामीण जन उपस्थित थे।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि मंत्री श्री कावरे ने ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि परसवाड़ा क्षेत्र की जनता जनार्दन ने उन्हें बड़ा दायित्व सौंपा है। अधिक जिम्मेदारी होने के कारण क्षेत्र में समय कम दे पाता हूं, लेकिन जनता जनार्दन का कल्याण और क्षेत्र के विकास के लिए मैं सदैव तत्पर रहता हूं। आज चिचगांव में गौशाला के लिए भूमि पूजन करने का पुनीत अवसर मिला है। ग्राम चिचगांव के लिए यह एक बड़ी सौगात है। गौमाता के पालन पोषण से आजीविका अर्जित होगी और साथ ही ग्रामीणों को आत्मनिर्भरता मिलेगी। 


कार्यक्रम की अध्यक्ष जिला पंचायत प्रधान श्रीमती रेखा बिसेन ने इस अवसर पर अपने संबोधन में कहा कि गौ माता बहुत पूजनीय और उपयोगी होती है। गोमूत्र से बड़े-बड़े रोग दूर हो जाते हैं गाय के शरीर में देवताओं का वास होता है। गाय की सेवा करना सौभाग्य की बात है । साथ ही गाय का गोबर व मूत्र रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में कारगर सिद्ध होता है। गोशाला का निर्माण हो जाने से बेसहारा गोवंश को एक सहारा मिल जाएगा और ग्रामीण जनों के लिए स्वरोजगार के साधन भी विकसित होंगे।

Comments

Popular posts from this blog

पंचायत सचिवों को मिलने जा रही है बड़ी सौगात, चंद दिनों का और इंतजार intjar Aajtak24 News