खबर का असर, सांसद नकुलनाथ ओर विधायक कमलेश शाह के द्वारा उच्च शिक्षा विभाग को पत्र लिखने के बाद हर्रई कॉलेज पहुंची जांच टीम | Khabar ka asar sansad nakulnath or vidhayak kamlesh shah ke dvara uchc

खबर का असर ,सांसद नकुलनाथ ओर विधायक कमलेश शाह के द्वारा उच्च शिक्षा विभाग को पत्र लिखने के बाद हर्रई कॉलेज पहुंची जांच टीम

दोषी व्यक्तियों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की एनएसयूआई ब्लॉक प्रभारी विक्रम डेहरिया,ब्लॉक अध्यक्ष अंशु सोनी,नगर अध्यक्ष प्रिंस साहू ने की मांग

खबर का असर,सांसद नकुलनाथ ओर विधायक कमलेश शाह के द्वारा उच्च शिक्षा विभाग को पत्र लिखने के बाद हर्रई कॉलेज पहुंची जांच टीम

हर्रई/छिंदवाड़ा (रत्नेश डेहरिया) - कॉलेज में 600 विद्यार्थियों के रजिस्ट्रेशन का डाटा गायब होने के मामले में विभाग ने छिंदवाड़ा यूनिवर्सिटी के कुलसचिव को जांच अधिकारी नियुक्त किया है रविवार को कुलसचिव हर्रई कॉलेज जांच करने पहुंचे थे कुल सचिव राजेंद्र मिश्रा ने हर्रई कॉलेज की एडमिशन सेल से जुड़े कर्मचारियों से पूछताछ की और रिकॉर्ड चेक किया कॉलेज प्रबंधन से जांच के बिंदुओं पर जानकारी जुटाने के बाद पीड़ित विद्यार्थियों के बयान भी दर्ज किए हैं इसी दौरान श्री मिश्रा एमपी ऑनलाइन केंद्र में भी पहुंचे केंद्र संचालक से जानकारी जुटाई गई है श्री मिश्रा ने बताया कि जांच रिपोर्ट तैयार कर ली गई है तय किए गए जांच के बिंदुओं पर जुटाई गई जानकारी को उच्च शिक्षा विभाग के असिस्टेंट डायरेक्टर जबलपुर को भेजी जाएगी आगे की कार्रवाई शासन स्तर पर होनी है जांच में क्या सामने आया इसका खुलासा नहीं किया गया है।


ज्ञात हो कि विगत दिनों एनएसयूआई के कार्यकर्ताओ ने हर्रई कॉलेज के  प्राचार्य पर लापरवाही का आरोप लगाया था। जिसको लेकर अमरवाड़ा विधायक राजा कमलेश शाह एवं सांसद नकुल नाथ के द्वारा उच्च शिक्षा विभाग को पत्र लिखा था एवं जल्द से जल्द  जांच करने की मांग की गई थी।बता दे कि शनिवार को शासकीय कालेज के 600 विद्यार्थियों के रजिस्ट्रेशन कैंसिल होने के मामले में प्राचार्य ने शनिवार को कमिश्नर के सामने पीड़ित विद्यार्थियों का पक्ष रखा था गड़बड़ी कहां और कैसे हुई इसका पता नहीं चल सका लेकिन पीड़ित विद्यार्थियों को आखिरी राउंड में मौका देने पर सहमति बनी है।
 जानकारी अनुसार हर्रई शासकीय कॉलेज के लगभग 600 विद्यार्थियों ने कॉलेज में प्रवेश के लिए रजिस्ट्रेशन करा चुके थे वेरिफिकेशन के समय स्टूडेंट को पता चला था कि उनका डाटा पोर्टल से गायब हो गया है। विद्यार्थियों के प्रदर्शन के बाद कॉलेज प्रबंधन की शिकायत पुलिस,विधायक से लेकर सांसद तक ने उच्च शिक्षा विभाग से शिकायत की थी उच्च शिक्षा विभाग ने भी इस मामले की जांच शुरू कराई थी शनिवार को हर्रई कॉलेज के प्राचार्य डॉ एस के एस यादव भोपाल गए थे। उच्च शिक्षा विभाग के अपर आयुक्त चंद्रशेखर वालिम्बे के सामने पीड़ित विद्यार्थियों का पक्ष रखा था। इस मीटिंग के दौरान प्राचार्य एसकेएस यादव ने कहां की विभाग ने पीड़ित विद्यार्थियों को प्रवेश देने में सहमति जताई थी। जल्द ही इन विद्यार्थियों के नाम पोर्टल में दर्ज होंगे। आखिरी राउंड में इन्हें भी मौका मिलेगा।


किसी बाहरी व्यक्ति के द्वारा कॉलेज की ईडी से छेड़छाड़ की गई है इसकी जांच उच्च शिक्षा बिभाग करेगा 3 से 4 दिनों में पता चल जाएगा कि किसने किया है।उन पर उचित कार्यवाही की जाएगी अधिकारीयो ने कॉलेजों के डेटा एवं कुछ बच्चों के रिजेक्ट फॉर्म और पूरी जानकारी की रिपोर्ट आज जबलपुर यूनिवर्सिटी में जमा करेगे उसके बाद यूनिवर्सिटी उच्च शिक्षा विभाग को रिपोर्ट देगा

*राजेन्द्र मिश्रा कुल सचिव*

Comments

Popular posts from this blog

पंचायत सचिवों को मिलने जा रही है बड़ी सौगात, चंद दिनों का और इंतजार intjar Aajtak24 News