डेंगू के मरीज मिलने पर स्वास्थ्य विभाग की टीम केसूर पहुंची | Dengu ke marij milne pr swashtya vibhag ki team kesur pahuchi

डेंगू के मरीज मिलने पर स्वास्थ्य विभाग की टीम केसूर पहुंची

जिला मलेरिया अधिकारी धर्मेंद्र जैन अपनी टीम के साथ केसर की गलियों में पहुंचे

लारवा व फीवर का सर्वे भी करवाया जा रहा है

डेंगू के मरीज मिलने पर स्वास्थ्य विभाग की टीम केसूर पहुंची

केसूर (अनिल परमार) - यहां पर डेंगू के अनेक मरीज मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग का अमला हरकत में आया जिले से भी स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी  पहुंचे व लारवा व फीवर का सर्वे करवाया गया साथ ही जिन लोगों को उक्त बीमारी हुई थी उनके परिजनों से चर्चा कर सावधानी बरतने की सलाह दी। इस दौरान अनेक जगहों पर पानी की टंकी में लारवा भी दिखाई दिए जिला मलेरिया अधिकारी धर्मेंद्र जैन ने बताया कि 7 दिनों से अधिक पानी टंकी में नहीं होना चाहिए इससे बीमारी फैलने का खतरा बढ़ जाता है अनेक जगह पर जब पानी की टंकी  को देखा तो उसमें लारवा नजर आए। इस पर तुरंत ही पानी की टंकी से पानी  खाली करवाया गया कुछ स्थानों पर लारवा की स्थिति देख अधिकारी ने ही पानी की टंकी को उड़ेल दिया और हिदायत दी कि इस तरह से पानी भरे रहना खतरनाक हो सकता जिन मरीजों को डेंगू की बीमारी  है उनके परिजनों से भी जानकारी ली गई कि उन्हें भी बुखार आदि तो नहीं आ रहा है।  ग्राम के कुछ लोगों ने बताया कि  इन दो बच्चों के अलावा अन्य लोगों में भी  डेंगू के लक्षण  है ।इस पर जिला मलेरिया अधिकारी उन लोगों के घर भी पहुंचे  व रजिस्टर आदि में उनके नाम एंट्री किए गए। श्री जैन ने कहा कि फिलहाल तो 2 लोगों की  रिपोर्ट हमारे पास आई है।

मलेरिया सलाहकार रेवचंद कटारे ने बताया कि उक्त मच्छर की उम्र 30 दिन तक की होती है 10 दिन तब तो वह पानी में ही होता है । उसके बाद वह किसी व्यक्ति को काटे तो उस व्यक्ति का खून अन्य व्यक्ति को काटने के दौरान जाता है तो डेंगू फैलने का खतरा बढ़ जाता है ऐसे में सबसे सरल उपाय या है कि हमारे आसपास कहीं पर भी साफ पानी अधिक दिनों तक जमा नहीं होना चाहिए। खास तौर पर घरों की छतों पर मिट्टी के बर्तन, पानी की टंकी, टायर आदि में यह लारवा पनपता है और बीमारी का खतरा बढ़ जाता है। हमारे आसपास भी यदि कहीं टायर आदि छत पर रखे हो तो उन्हें वहां से हटवाना चाहिए तभी हम काफी हद तक इससे बच सकते हैं। मलेरिया सब इंस्पेक्टर सरफराज शेख ने बताया कि यहां पर टीम गठित कर पूरे ग्राम का सर्वे करवाया जाएगा साथ ही फंगिंग मशीन से भी पूरे गांव  मैं दवाई का छिड़काव किया जाएगा स्वास्थ्य विभाग द्वारा फंगिंग मशीन व  दवाई आदि उपलब्ध करवा दी जाएगी छिड़काव आदि की व्यवस्था के लिए पंचायत  सचिव संतोष कुशवाहा आदि से भी चर्चा की गईछिड़काव करते

Post a Comment

0 Comments