कोरोना वायरस तथा मंदी के दौर से गुजरने के बाद,अच्छी ग्राहकी को देखते हुए व्यापारियों के चेहरे पर आई मुस्कुराहट | Corona virus tatha mandi ke dour se gujarne ke baad achchi grahki

कोरोना वायरस तथा मंदी के दौर से गुजरने के बाद,अच्छी ग्राहकी  को देखते हुए व्यापारियों के चेहरे पर आई मुस्कुराहट

दीपावली के पहले दुल्हन की तरह सजी दुकाने

कोरोना वायरस तथा मंदी के दौर से गुजरने के बाद,अच्छी ग्राहकी  को देखते हुए व्यापारियों के चेहरे पर आई मुस्कुराहट

रतलाम-झाबुआ (संदीप बरबेटा):- कई महीनों बाद बाजार में आए  खुशियां, तथा मंदी के दौर  से गुजरने के बाद अच्छे ग्राहकी  को देखते हुए व्यापारियों के चेहरे पर आई मुस्कुराहट, जैसे–जैसे दीपावली का त्योहार नजदीक आ रहा है, वैसे–वैसे तैयारियों का सिलसिला तेज होता जा रहा है। घर, दुकान, प्रतिष्ठानों में साफ–सफाई, रंगाई–पुताई के साथ सजावट का सिलसिला तेज हो गया है। व्यापारी और लोग त्योहार से पहले की तैयारियों में व्यस्त नजर आ रहे हैं। शहर हो या गांव सभी जगह दीपोत्सव की तैयारियां युद्ध स्तर पर की जा रही है। बाजार में भी चहल–पहल बढ़ गई ह*

*पांच दिवसीय दीपोत्सव की शुरुआत 12 नवंबर से होगी। पहले दिन धनतेरस, दूसरे दिन रूप चौदस, तीसरे दिन महालक्ष्मी पूजा, चौथे दिन पड़वा/गोवर्धन पूजा और पांचवें अंतिम दिन भाईदूज के साथ उत्सव का समापन होगा। प्रकाश पर्व दीपोत्सव के लिए लोगों ने अपने घर–दुकान व प्रतिष्ठानों में साफ–सफाई, रंग–रोगन के साथ सजावट शुरू कर दी है। दीपावली के त्योहार को खास बनाने के लिए लोग किसी भी तरह की कमी नहीं रहने देना चाहते हैं।*


*बाजार में भी रंगरोगन और सजावटी वस्तुओं की दुकानों पर रौनक देखने को मिल रहा है। कोई तरह–तरह के कलर खरीद रहा है तो कोई सजावटी वस्तुएं। बाजार में रंगोली के रंगों की दुकानें भी सज गई हैं। मिट्टी के दीयों का निर्माण युद्ध स्तर पर चल रहा है। कुम्हार परिवार के साथ दीयों को आकार देने में जुटे हुए हैं। हर कोई घर–आंगन को आकर्षक रूप देने में जी जान से जुटे हुआ है।*

Post a Comment

0 Comments