बीमा क्लेम मे विसंगति पर बोले सांसद | Bima claim main visangati pr bole sansad

बीमा क्लेम मे विसंगति पर बोले सांसद

2019  मे सर्वे करने मे घोर लापरवाही हुई

इसके लिये कमलनाथ सरकार और उनके अफसर जिम्मेदार

बीमा क्लेम मे विसंगति पर बोले सांसद

बुरहानपुर। (अमर दिवाने) - बीमा क्लेम विसंगति पर किसानो मे छाई नाराजगी को लेकर भाजपा के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष एवं खण्डवा सांसद नन्दुभैया ने कांग्रेस की तत्कालीन कमलनाथ सरकार पर जमकर हमला बोला है, उन्होने कहा कि सन 2019 मे कमलनाथजी की सरकार थी। उनके शासन काल मे फसल खराब होने पर सर्वे किया गया था। और सर्वे करने मे घोर लापरवाही की गई है, इसके लिये कमलनाथजी की सरकार और उनके अधिकारी जिम्मेदार है। उनकी लापरवाही की वजह से किसानो को फसल ​बीमा का वाजिब हक नही मिला है। उन्होने कहा कि सर्वे मे लापरवाही का आलम यह रहा कि किल्लोद ब्लाक को ही छोड दिया गया।  कांग्रेस के विधायक नारायण पटेल ने आवाज उठाई थी। तब कहा गया कि किल्लोद ब्लाक छूट गया तो छूट जाने दो। लेकिन उनकी एक नही सुनी गई है, उन्होने आरोप लगाया किसानो और गरीबो की आवाज कमलनाथ सरकार नही सुनती थी। जनप्रतिनिधियो की भी सुनवाई नही होती थी। इसी कारण नारायण भाई ने कांग्रेस को अलविदा कहा और वे हमारी पार्टी मे आये है। उन्होने कहा कि पटेल ने तय किया ऐसी पार्टी मे रहने से क्या फायदा जो जनता के साथ विधायको की आवाज नही सुनती है।  सांसद चौहान ने एक प्रश्न के जवाब मे कहा कि हमारी पार्टी मे कोई भीतरघात नही है, पूरी पार्टी एक जुट है प्रदेश मे मुख्यमंत्री शिवराजसिह चौहान हो तथा विधानसभा मे नारायण पटेल को विजयी बनाकर भेजा जाये। यह हमारा लक्ष्य है, सांसद नन्दकुमार सिंह चौहान ने मूंदी मे सन्त बुखारदास बाबा आश्रम मे पार्टी पदाधिकारियो की बैठक को सम्बोधित करने के बाद पत्रकारो से चर्चा करते हुये उक्त बाते कही है। 

परिवार के रूठे हुये लोगो को, 
मनाने का दायित्व हमारा है।

नन्दू भैया ने मांधाता के भाजपा नरेन्द्रसिह तोमर के मामले मे कहा कि वे हमारे है वे समझे समझाये है। हमारे यहां कोई रूठा हुआ नही है। यहां से वहां तक खुशी का माहोल है। उन्होने कहा कि यदि कोई किसी वजह से रूठा है, चाहे वो छोटा या बडा कार्यकर्ता क्यो न हो? यदि हम परिवार के है तो रूठो को मनाने का दायित्व भी हमारा है। उन्होने विश्वास के साथ कहा कि हमारे कार्यकर्ता नारायण पटेल को विजयी बनाने के लिये कमर कसे हुये है।

Post a Comment

0 Comments