18 सितंबर को प्रदेश मोटर मालिक एसोसिएन और सरकार के बीच होगी चर्चा | 18 september ko pradesh motor malik association or sarkar ke bich hogi charcha

18 सितंबर को प्रदेश मोटर मालिक एसोसिएन और सरकार के बीच होगी चर्चा

बस किराया बढ़ाने पर हो सकता है समझौता

18 सितंबर को प्रदेश मोटर मालिक एसोसिएन और सरकार के बीच होगी चर्चा

पीथमपुर (प्रदीप द्विवेदी) - पीथमपुर  17 सितंबर गुरुवार  को प्राइम रूट बस आनर्स ऐसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष गोविंद शर्मा ने प्रेस विज्ञप्ति में बताया कि बढ़ 18 सितंबर को बोर्ड की बैठक में यात्री बसों किराया  बढ़ाने के संबंध में  फैसला हो सकता है ।

प्राइम रूट बस आनर्स ऐसोसिएशन नै किराया बोर्ड समिति के समक्ष 50% से 60% किराया वृद्धि का प्रस्ताव भेजा है जिस पर 18 सितंबर को वल्लभ भवन में किराए बोर्ड की बैठक में एसोसिएशन के प्रतिनिधि एवं अन्य मोटर मालिक ऐसोसिएशन के प्रतिनिधियों की प्रशासन के  मध्य चर्चा होकर बसों के किराए में संशोधन हो सकता है।

 प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रथम 5 किलोमीटर पर ₹ 10 की मांग के साथ लगभग 1 रूपया 50 पैसे प्रति किलोमीटर  किराया तय करने हेतु प्रस्तुत संबंधित दस्तावेज जैसे डीजल के बढ़ते दाम आयल, टायर, टोल टैक्स ,वेतन ,परमिट फीस आवेदन फीस,बस चेसिस के बढते दाम ,जी.एस.टी. सहित बसों के संचालन में जो ₹ 50 से  ₹ 60 प्रति की.मी. के मध्य व्यय  होता है उसकी तालिका प्रस्तुत की गई है।

वर्ष 2015 में बड़ा किराया 0.92 पैसा के समय डीजल के दाम 49.71 ₹ था.

मई 2018 मे जब डीजल के दाम 67.69 ₹ है में वर्तमान किराया 1.00 तय किया गया जो आज भी प्रचलित है ।

6 बर्ष कै तुलनात्मक आकडे बता रहे है की शासन नेअगस्त 2013 सै  सितंबर 2020 के मध्य मै जब किराया 0.10 पैसा ही बढाया  है जबकि 6 वर्ष मे डीजल के दाम लगभग 34 ₹ का भारी अंतर है एंव अन्य संसाधनों के वर्तमान मे बढते दामो कै तहत  जिस पर किराए बोर्ड के फार्मूले के तहत  50% से ₹60% तक किराए की वृद्धि का  निर्धारण होना चाहिए।

पंडित गोविंद शर्मा ने कहा है कि कल  18 तारीख की बैठक में प्रदेश मोटर मालिक एसोसिएशन  के दो प्रतिनिधि अपनी मांग पत्र  मे दावा प्रस्तुत कर सरकार से तत्काल 60% किराया वृद्धि पर अपना मजबूत पक्ष रखेगें ।

Post a Comment

0 Comments