संत सिंगाजी पावर परियोजना मे स्टोर रूम के टूटे ताले | Sant singaji pavar pariyojna main store room ke tute taale

संत सिंगाजी पावर परियोजना मे स्टोर रूम के टूटे ताले 

मुख्यालय जबलपुर से आई टीम ने किया निरीक्षण

पूलिस द्वारा चोरी की घटना का आवेदन लेकर मामले की विवेचना  शुरू 

संत सिंगाजी पावर परियोजना मे स्टोर रूम के टूटे ताले

बीड़ (सतीश गम्बरे) - संत सिंगाजी पावर परियोजना  मे बने  एल एंड टी एवं बी एच ई एल के स्टोर रूम मे गुरुवार दोपहर तीन से चार को ताले तोड़ कर चोरी की घटना को अंजाम दिया गया विदित हौकी वर्तमान मे ये  भंडार ग्रहो मे परियोजना का  मालिकाना हक रखने वाली कंपनी एम पी पी जी सी एल  के स्पेयर एवं रिजेक्ट मटेरियल रखे हुए है जिसकी सुरक्षा जिम्मेदारी भी स्वय एम पी पी जी सी एल के अन्तर्गत ही आती है चोरी की घटना का पता लगते ही मुख्यालय जबलपुर से निरीक्षण करने भी विभागीय टीम पहुची और निरिक्षण कर चली भी गई लेकिन चोरी कितने की और किन पार्ट्स की हुई ये बताने से अधिकारी कन्नी काट रहे है वही यह मामला लाखो का भी हो सकता है गत माह मे भी करीब  सात कंपनियो के भंडार ग्रहो के ताले टूटने की वारदातों को अंजाम दिया जा चुका है वही परियोजना के सूत्रो के अनुसार कोई चोरी की घटना घटित हुई ही नही सारा खेल पूर्व मे ही जवाबदारो द्वारा मिली भगत कर गायब किए जा चुके मटेरियल का पुलिस की एफ आई आर की कॉपी लगाकर मामला सेट करने का है जिससे जब कभी  भी आडिट टीम परियोजना पहुचे तो मामला बरी हो चुका हो  गौरतलब है की 29 नवंबर 2015 को भी इसी प्रकार से परियोजना के स्टोर से ताले तोड़कर लाखो रुपए का मटेरियल चोरी होने की घटना हुई थी  तब भी मामला पुलिस के पास  आने पर चोरी ना होने के संदेह पर  सीधे एफ आई आर दर्ज  नही की जाकर मामले को  जांच मे लिया गया था भंडार गृह की अधीक्षण यंत्री से लेकर स्टोर से संबंधित 20 से ज्यादा अधिकारियो एवं कर्मचारियो के बयान दर्ज किए गए थे तब भी मामला मटेरियल के आडिट से जुड़ना बताया जा रहा है अब भी मामला वही नजर आता दिख रहा है प्रमुख ऊर्जा सचिव को मामला संज्ञान मे लेकर सूक्ष्म जांच कराने की आवश्यकता है ॥ ॥

Post a Comment

0 Comments