सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन और मास्क न लगाने पर अधिकारी सख्ती से स्पॉट फाईन करें - कलेक्टर | Social distancing ka ulqnghan or mask na lagane pr adhikari sakhti

सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन और मास्क न लगाने पर अधिकारी सख्ती से स्पॉट फाईन करें - कलेक्टर

कोरोना स्क्वाड अधिकारियों की बैठक आयोजित, कोरोना स्पॉट फाईन एप की ट्रेनिंग दी गई
      
सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन और मास्क न लगाने पर अधिकारी सख्ती से स्पॉट फाईन करें - कलेक्टर

उज्जैन (रोशन पंकज) - शनिवार को नानाखेड़ा स्टेडियम में कलेक्टर श्री आशीष सिंह और पुलिस अधीक्षक श्री मनोज कुमार सिंह की मौजूदगी में कोरोना स्क्वाड अधिकारियों की बैठक आयोजित की गई। इसमें विभिन्न विभागों के अधिकारी, सीएसपी, एएसपी, जिले के सभी एसडीएम, सिटी मजिस्ट्रेट और तहसीलदार मौजूद थे। बैठक में जानकारी दी गई कि उज्जैन जिले में कोरोना स्क्वाड अधिकारियों की टीम गठित की गई है, जो निरन्तर भ्रमण कर समय-समय पर प्रशासन द्वारा लॉकडाउन से सम्बन्धित दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन कराया जाना सुनिश्चित कर रही है।

बैठक में कलेक्टर श्री आशीष सिंह ने कहा कि इंसान की जान से ज्यादा कीमती कुछ भी नहीं है। कोरोना के खिलाफ अभी तक जिस गंभीरता से हमने लड़ाई लड़ी है, आगे भी वैसे ही लड़ना होगी। प्रशासन द्वारा समय-समय पर जारी प्रतिबंधात्मक आदेश की स्क्वाड अधिकारी पूरी जानकारी रखें और जनता से सख्ती से पालन करवायें। कलेक्टर ने कहा कि स्क्वाड के अधिकारियों के लिये जिला प्रशासन द्वारा ‘स्पॉट फाईन एप’ बनाया गया है, जिसकी ट्रेनिंग अधिकारियों को दी गई है। शहर में विशेष स्क्वाड वाहन जितना अधिक भ्रमण करेंगे, आमजन कोरोना संक्रमण के प्रति उतने ही सतर्क और जागरूक रहेंगे। लोगों के मन में यह बात रहना जरूरी है कि कोरोना का संकट अभी टला नहीं है, इसलिये जरा-सी लापरवाही बहुत नुकसानदायक हो सकती है।

कलेक्टर ने कहा कि कोरोना स्क्वाड अधिकारियों की टीम में पुलिस और नगर निगम के अधिकारी और कर्मचारी भी शामिल किये गये हैं। प्रत्येक सीएसपी एरिया में जो संवेदनशील क्षेत्र हैं जैसे स्नानघाट या चाय-नाश्ते की दुकानें, वहां पर सोशल गेदरिंग तो नहीं हो रही है। इस बात का ध्यान रखें। स्क्वाड अधिकारी ऐसे क्षेत्रों में प्रतिदिन चार से पांच बार भ्रमण करें और स्पॉट फाईन एप पर जियोटैग की लाईव लोकेशन सेंड करें। ऐसे क्षेत्र जहां सोशल डिस्टेंसिंग के उल्लंघन होने की गुंजाईश है, वहां सख्ती से स्पॉट फाईन करें। कोरोना स्क्वाड अधिकारियों को प्रत्येक नियम के उल्लंघन पर कितना जुर्माना लगाना चाहिये, इस बारे में अद्यतन जानकारी होनी चाहिये।

पुलिस अधीक्षक श्री मनोज कुमार सिंह ने कहा कि स्क्वाड अधिकारियों की टीम का प्रमुख उद्देश्य लोगों को कोरोना संक्रमण के प्रति निरन्तर सतर्क करते रहना है। हमें निरीक्षण और बढ़ाये जाने की जरूरत है। जो दल गठित किये गये हैं वह अपने-अपने क्षेत्र में भ्रमण के दौरान यह सुनिश्चित करें कि जनता द्वारा मास्क पहनना और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन अनिवार्य रूप से किया जा रहा है, क्योंकि अभी तक कोरोना संक्रमण से पूरी तरह से मुक्त नहीं हुए हैं। कोरोना के खिलाफ जंग अभी जारी है और काफी समय तक हमें इसके खिलाफ लड़ना होगा, इसीलिये जरा-सी लापरवाही बहुत खतरनाक हो सकती है।

इसके पश्चात अधिकारियों को स्पॉट फाईन एप की ट्रेनिंग दी गई। बैठक में एडीएम श्रीमती बिदिशा मुखर्जी, एएसपी श्री रूपेश द्विवेदी भी मौजूद थे।

Post a Comment

0 Comments