ग्यारह के वी विघुत लाईन ने ली आदिवासी युवक की जान | Gyarah KV vidhyut line ne li adivasi yuvak ki jaan

ग्यारह के वी विघुत लाईन ने ली आदिवासी युवक की जान                    


छिन्दवाडा/सौसर रिधोरा (ढाणा) - निवासी किसना  सँपत वाढीवे उम्र लगभग 45  साल जो कि अपने मकान के छत पर आँम सुखाने के लिए.रखने गया था.वही उसके मकान के उपर से ग्यारह के वी की विघुत प्रभाव की लाईन गयी हुई थी, इस लाईन को हटाने के लिए कई बार विघुत आफिस पीपला नारायणवार मे नागरिकों ने आवेदन देने के बावजूद विघुत विभाग ने किसी प्रकार का संज्ञान में नही लिया आखिर नतीजा आज एक.आदिवासी की मोत मे तब्दील हो गया ,वही प्रशासन से सरपँच रिधोरा रवीन्द्र चौरे पुर्व सरपँच बबलु कोचे आदित्य बाबू माहेश्वरी सहित गाम वासियों ने विघुत विभाग से अविलम्ब विघुत लाईन हटाने एवम विघुत विभाग गरीब आदिवासी परिवार को हरजाना देने हेतु  माँग रखी गई, जिस पर विघुत विभाग ने एक दो दिन मे लाईन हटाने की बात कही कुछ समय के लिए महौल गरम हुआ जिसे पीपला नगर पुलिस चौकी प्रभारी धमेन्द्र मशराम ने समझाईश देकर शाँति बहाल की।

Post a Comment

0 Comments