रजिस्ट्री रॉयल्टी और आबकारी टैक्स से भर रहा सरकारी खजाना | Registry royalty or abkari tax se bhar rha sarkari khajana

रजिस्ट्री रॉयल्टी और आबकारी टैक्स से भर रहा सरकारी खजाना 

नहीं आना पड़ेगा ऑफिस अधिकारी घर बैठ्कर कर सकेंगे काम 

जबलपुर (संतोष जैन) - कोरोना संकट काल में कुछ लोगों ने शासन के लिए राजस्व जुटाना शुरू कर दिया है जिले में भी इसकी शुरुआत हुई है खनिज विभाग में अप्रैल के महीने से खदानों में खनन की अनुमति प्रदान कर दी थी ऐसे में वहां से रायलिटी आने लगी है आबकारी विभाग ने ग्रामीण क्षेत्रों में देशी एवं विदेशी शराब की बिक्री शुरू की ऐसे में लाइसेंस फीस के अलावा दूसरी मदों से राजस्व है इसी प्रकार रजिस्ट्री भी शुरू हो गई इससे भी बड़ी  आवक शुरू हो गई अभी तक सभी विभागों से करीब ₹15 करोड़ का राजस्व मिला है

 कोरोना वायरस जैसी दूसरी महामारी से इनकम टैक्स आईटी विभाग का कार्य प्रभावित नहीं होगा अधिकारी घर बैठकर भी उनसे जुड़े कार्यों को अंजाम दे सकेंगे विभाग वर्क फ्रॉम होम प्रणाली को बढ़ावा देते हुए जल्द ही नए सॉफ्टवेयर के साथ काम करेगा अधिकारियों को इस सॉफ्टवेयर से लैस लैपटॉप दिए जाएंगे विभाग का पोर्टल इंटरनेट से भी चल सकेगा उनके लिए जरूरी नहीं होगा कि वह विभाग के सरवर से काम करें जबलपुर आयकर भवन में भी इसकी तैयारियां तेज हो गई हैं

Post a Comment

0 Comments