मुख्यमंत्री ने कहा मध्यप्रदेश की व्यवस्थाएं बेहतर श्रमिकों की मदद देखना है तो प्रियंका प्रदेश आएं | Mukhyamntri ne kaha mp ki vyavasthae behtar

मुख्यमंत्री ने कहा मध्यप्रदेश की व्यवस्थाएं बेहतर श्रमिकों की मदद देखना है तो प्रियंका प्रदेश आएं

पूर्व मंत्रियों से सरकारी बंगला खाली कराने एक्शन सरकार गई अब बांग्ला भी छोड़ो 

भोपाल (संतोष जैन) - उत्तर प्रदेश में मजदूरों को बस सुविधा उपलब्ध करवाने को लेकर मचे विवाद अब मध्यप्रदेश में आ पहुंचा है सीएम शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर कांग्रेसी नेत्री प्रियंका गांधी से कहा है यदि उन्हें  श्रमको की मदद करना है तो मध्य प्रदेश आए यहां की व्यवस्था देखें इससे उन्हें मदद मिलेगी शिवराज ने दावा किया है कि मध्य प्रदेश की धरती पर प्रियंका गांधी को कोई मजदूर भूखा प्यासा और पैदल चलता हुआ नहीं मिलेगा मजदूरों को मत बनाओ मोहरा रोज 1000 bus चला रहा है मध्य प्रदेश 

वही कमल नाथ  बोले मजदूर के नाम पर मजाक मत करें शिवराज की  का जवाब देते हुए पूर्व सीएम कमलनाथ ने कहा कि झूठ मत बोले लेकिन मजदूरों के नाम पर मजाक ना करें प्रदेश के सभी प्रमुख मार्ग व सीमाएं मजदूरों से भरे कोई पैदलनंगे पैर तो कोई साइकिल से जा रहा है  मजदूर सड़क हादसे में जान गवा चुके हैं 

सभी पूर्व मंत्रियों को दिए गए हैं नोटिस 20 मई तक दी गई थी मोहलत प्रदेश में कांग्रेस की सरकार गिरते  ही उनके मंत्रियों के हाथ से सरकारी बंगला भी जाता दिख रहा है शिवराज सरकार के शपथ लेने के साथ ही संपदा संचनालय की टीम ने पूर्व मंत्रियों को बंगला खाली करने का नोटिस थमा दिया था इसके बाद भी आवास खाली नहीं करने का विभाग ने 20 मई तक की मोहलत देते हुए बेदखली का नोटिस जारी किया था बुधवार को नोटिस की मियाद पूरी हुई तो संपदा संचनालय टीम पूर्व वित्त मंत्री तरुण भनोट की चार इमली स्थिति 16 पर पहुंची और  चार इमली व गार्ड की मजबूती में आवाज सील कर दिया अभी तरुण  भनोट जबलपुर में है वही दूसरे पूर्व मंत्रियों के सरकारी आवास पर भी टीम जल्द कार्रवाई करेगी 

23 को खाली करेंगे पूर्व सीएम कमलनाथ पूर्व मंत्री कमलनाथ 23 मई को 6:00 श्यामला हाउस खाली कर देंगे 

बदले की सियासत सरकार को रोना संकट में बदले की राजनीति कर रही है अभी जबलपुर में हूं लॉक डाउन के कारण भोपाल नहीं पहुंच पा रहा हूं ऐसे में मेरी ग़ैर मौजूदगी में सरकारी बंगला खाली कराना बदले की कार्रवाई है विधायक की हैसियत से मुझे सरकारी बंगला मिले 
तरुण भनोट पूर्व मंत्री

Post a Comment

0 Comments