कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद यहां सड़के हुई वीरान | Corona positive milne ke baad yaha sadke hui viraan

कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद यहां सड़के हुई वीरान

लोगों में दिखने लगा खौफ, पुलिस ने संभाला मोर्चा

कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद यहां सड़के हुई वीरान

डिंडौरी (पप्पू पड़वार) - जिला डिंडौरी के जनपद मुख्यालय समनापुर क्षेत्र में सोमवार को कोविड-19 संक्रमित मरीज मिलने के बाद अपर कलेक्टर मिनीषा भगवती पांडेय ने समनापुर मुख्यालय से लगे 05 किमी के क्षेत्र को कंटेन्मेंट जोन घोषित कर दिया है। इस संबंध में अपर कलेक्टर ने आदेश जारी कर दिया है। आदेश में कहा गया कि कंटेन्मेंट जोन में आम नागरिकों को आवागमन पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा। साथ ही इन क्षेत्र के सभी घरों में स्वास्थ्य कार्यकर्ता डोर-टू-डोर सर्वे भी करेंगे।


समनापुर के स्कूल टोला वार्ड-01 स्थित सीनियर बालिका छात्रावास  क्वारंटाइन सेंटर में भर्ती 22 वर्षीय मरीज सुखराम पिता भगवत दास में कोरोना का संक्रमण पाया गया है। वह मुख्यालय के जाड़ासरंग गांव का मूल निवासी है, जो हाल ही में मुंबई से आया है। लिहाजा सीनियर गर्ल्स हॉस्टल को तत्काल प्रभाव से 'एपिसेंटर' घोषित कर दिया गया है। वहीं, प्रशासन ने इससे लगे 05 किमी के दायरे को कंटेन्मेंट जोन में भी तब्दील कर दिया है। 05 किमी से बाहर के क्षेत्र को बफर जोन माना जा रहा है। 


सड़क हुई वीरान

समनापुर मुख्यालय के स्कूल कालौनी स्थित बालिका छात्रावास  में कल कोरोना वायरस का पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद जहां बाजार सुनसान हो गए हैं वहीं स्कूल कॉलोनी को केंद्र बिन्दु मानते हुए जिला प्रशासन ने कर्फ्यू लगा दिया है। वहीं पुलिस की बड़ी संख्या में तैनाती भी कर दी गई है। कर्फ्यू वाले इलाके में किसी को भी आने और जाने की मनाई है वहीं जगह-जगह पुलिस बल तैनात होकर पूरी कॉलोनी को सील करवा दिया गया है।


जिला प्रशासन पल-पल की मॉनिटरिंग कर रहे हैं वहीं मेडिकल की टीमें भी इस पूरी इलाके में लोगों की स्क्रीनिंग कर रही है। साथ ही प्रशासन की ओर से पूरे क्षेत्र में छिड़काव भी कराया जा रहा है। शहर  से आये मजदूर के कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद समनापुर सहित आसपास के इलाकों में लोगों में वायरस को लेकर खौफ देखा जा रहा है। अपने स्तर पर कई कॉलोनियों में लोगों ने रास्ता रोककर किसी के भी आने और जाने पर रोक लगा दी है। जिसके चलते पूरे मुख्यालय में कर्फ्यू का सा माहौल देखा जा रहा है। वहीं प्रशासन की ओर से अपने स्तर पर कर्फ्यू वाले इलाके में राशन भेजने के भी इंतजाम किए जा रहे है।

Post a Comment

0 Comments