कहीं दिखी सर्तकता तो कहीं दिखी लापरवाही | Kahi dikhi satarkta to kahi dikhi laparwahi

कहीं दिखी सर्तकता तो कहीं दिखी लापरवाही

कहीं दिखी सर्तकता तो कहीं दिखी लापरवाही

डिंडौरी (पप्पू पड़वार) - जिला डिंडौरी के समनापुर में कोरोना वायरस से बचाव हेतु लॉक डाउन की घोषणा जीरो टॉलरेंस तक नही पहुंच पा रही है।जबकि वायरस का चक्र तोड़ने के लिए इस वायरस का चक्र टूटना जरूरी है। पर लाख मना करने के बावजूद कुछ जरूरी तो कुछ लोग अनावश्यक भी बाजार पहुंच रहे हैं। हालांकि बुधवार को पुलिस  प्रशासन ने जरूर सख्ती दिखाई। थाना प्रभारी बाजार में पहुंचते रहे। इस दौरान अधिकारियों ने जगह-जगह ग्रुप में खड़े लोगों, ऑटो और बाइक चालको को हड़काया और समझाया भी। माइक से सुरक्षात्मक उपायों का प्रचार प्रसार भी कराया, कुछ अनावश्यक घूम रहे युवकों पर लाठीचार्ज करते हुए खदेड़ा भी। 
कहीं दिखी सर्तकता तो कहीं दिखी लापरवाही

कोरोना महामारी को मात देने को लेकर सरकार द्वारा लागू किए गए लॉक डाउन कार्यक्रम के तीसरे दिन यानि बुधवार को लॉक डाउन सफल बनाने को लेकर पुलिस की तत्परता बढ़ती देखी गई। जिससे स्थिति में सुधार दिखा। सरकारी छूट के मुताबिक दवा व किराना की कुछ दुकानें खुली तो थीं। मगर अन्य प्रकार की दुकानें बंद थी। हालांकि सड़कों पर बाइकर्सों की आवाजाही चल रही थी। जिसे रोकने के लिए पुलिस प्रशासन की तत्परता भी देखी गई। समनापुर  बाजार पर स्थित दुकाने तीन बजे के बाद थाना प्रभारी उमाशंकर यादव के नेतृत्व में पुलिस बल ने बंद करवा दिया। वहीं आस पास मोहल्ले में समय सीमा से ज्यादा टाईम तक दुकाने खोलनेे वाले व बाइकों व कारों से आवागमन करते लोगों को लॉक डाउन में संयम बरतने व घर में रहकर राष्ट्रहित व समाजहित में भागीदार बनने की अपील करते दिखे। आसपास वाहन जांच के माध्मय से पुलिस इस बात को लेकर गंभीर दिखी कि अनावश्यक लोगों की आवाजाही न हो सके।इस प्रकार मंगलवार की अपेक्षा बुधवार को लाकडाउन की स्थिति में सुधार व संतोषजनक थी। जिससे आम लोगों को पुलिस-प्रशासन के प्रति भरोसा बढ़ा कि लाकडाउन जरुर सफल होगा तथा कोरोना का श्रृंखला टूटेगा।

Post a Comment

0 Comments