देर रात तक ठंड में ठिठुरते रहे छात्र छात्राए | Der raat tak thand main thithurte rhe chhatr chhatrae

देर रात तक ठंड में ठिठुरते रहे छात्र छात्राए

विधायक ,सांसद के कार्यक्रम के लिए हेडमास्टर द्वारा छुट्टी के बाद भी रोका छात्र छात्राओं को

देर रात तक ठंड में ठिठुरते रहे छात्र छात्राए

आमला (रोहित दुबे) - एक तरफ शासन बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान चला रहा है वही दूसरी ओर सरकारी स्कूल के शिक्षक इस अभियान को पलिता लगा रहे है और उन्हें बालिकाओं की सुरक्षा से भी कोई सरोकार नही है ऐसा ही एक मामला ब्लाक के ग्राम बोरी में प्रकाश में आया है ।जहा बीती 13 फरवरी गुरुवार को ग्राम बोरी में आयोजित लोकार्पण कार्यक्रम में शासकीय माध्यमिक शाला के छात्र छात्राओं को देर रात 8 बजे तक ठंड में हेडमास्टर द्वारा बिना कोई वरिष्ठ अधिकारियों से बिना अनुमति लिए रुकवाया ।और यह छात्र भूखे प्यासे अतिथियों के इंतजार करते देखे गए ।बताया जाता है बच्चों की छुट्टी साढे 4 बजे ही हो जाती है और शाला में ग्राम बोरी सहित अन्य ग्रामो के बच्चे भी अध्ययन हेतु आते है।वे छात्र छात्राए अंधेरे में अपने घर लौटे।जानकारी के मूताबिक विधायक योगेश पण्डागरे व सांसद डी डी उइके का लोकार्पण कार्यक्रम 3 बजे का निश्चित था लेकिन किन्ही कारणवश सांसद कार्यक्रम में उपस्थित नही हो पाए तथा विधायक भी देर शाम के बाद पहुचे ।प्रभारी हेडमास्टर सूर्यपाल पहाड़े द्वारा स्कूली बच्चों से स्कूल में फर्नीचर की मांग करवाने छात्रों को रुकवाया तथा कार्यक्रम के समापन तक बच्चे नीचे दर्शक दीर्घा में बैठे रहे ।वही देखने में आया जितने भी अतिथि ,नेतागण व ग्रामीण सभी स्वेटर जरकिन ठंड से बचने के लिए पहने हुए थे लेकिन छात्र छात्राओं के पास ठंड से बचने के कोई इंतजाम नही थे वे बेचारे मंच के सामने नीचे ठंड में ठिठुर रहे थे।

देर रात तक ठंड में ठिठुरते रहे छात्र छात्राए

इनका कहना है 

अगर बच्चों को छुट्टी के बाद भी देर शाम तक रुकवाया गया तो हेडमास्टर से स्पस्टीकरण लेकर कार्यवाही की जाएगी।

सी के धोटे, बी आर सी, शिक्षा कार्यालय आमला

Post a Comment

0 Comments