जिला पंचायत सीईओ ने विकास योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की | Jila panchayat ceo ne vikas yojnao ki pragati ki samiksha ki

जिला पंचायत सीईओ ने विकास योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की

जिला पंचायत सीईओ ने विकास योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की

बालाघाट (देवेंद्र खरे) - 18 ग्राम रोजगार सहायकों की सेवायें समाप्त करने नोटिस जारी करने के निर्देश जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती रजनी सिंह ने 27 नवंबर को कटंगी एवं खैरलांजी में अधिकारियों की बैठक लेकर इन विकासखंडों में ग्रामीण विकास विभाग द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की । बैठक में सहायक कलेक्टर अक्षय ताम्रवाल, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत कटंगी एवं खैरलांजी एवं अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे । इस दौरान उन्होंने कटंगी विकासखंड के ग्राम कटेदरा में बन रही गौशाला के कार्य का निरीक्षण भी किया।

जिला पंचायत सीईओ ने विकास योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की

बैठक में श्रीमती सिंह ने मनरेगा योजनांतर्गत ग्राम पंचायत में कार्य प्रारंभ नहीं कराने, लेबर बजट बहुत कम होने, पीएम आवास कार्य प्रारंभ नहीं कराने एवं प्रगति बहुत कम होने तथा आवास कार्य प्रारंभ होने के उपरांत भी मस्टर जारी नहीं करने वाले ग्राम पंचायत के रोजगार सहायक जराहमोहगांव, जाम, सेलवा, चिचगांव, चैखण्डी, कोसुम्बा, हथोड़ा, दिग्‍धा, धनकोषा, सांवगी, नांदी, पौनिया एवं जनपद पंचायत खैरलांजी के अंतर्गत ग्राम पंचायत दुधारा, मिरगपुर, चिखला, पुलपुट्टा, बिटोड़ी, टटेकसा की सेवा समाप्ति का नोटिस जारी करने के निर्देश दिये गये। उन्होंने कहा कि जिन ग्राम पंचायतों में दिसम्बर 2019 तक लेबर बजट, पीएम आवास में आवश्यक सुधार नहीं लाने पर संबंधित जिम्मेदार रोजगार सहायक, सचिव एवं उपयंत्री के विरूद्ध शासकीय कार्य में रूचि नहीं लेने एवं लापरवाही बरने पर सेवा से पृथक करने की कार्यवाही की जायेगी।बैठक में जनपद पंचायत खैरलांजी के अंतर्गत प्रधानमंत्री आवास में जिनके भी 03 दिवस के भीतर शून्य मस्टर हैं, उनका एक माह वेतन वेतन कटौत्रा एवं सेवा समाप्ति का नोटिस जारी करने के निर्देश दिये गये । श्रीमती नाजनीन खान, उपयंत्री जनपद पंचायत खैरलांजी के सेक्टर की ग्राम पंचायतों में लेबर बजट उपलब्धी न्यूनतम होने के कारण कारण बताओ सूचना पत्र जारी करने के निर्देश जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को दिये गये। यह भी निर्देशित किया गया कि ग्राम पंचायत में जल संरक्षण के कार्यो को प्राथमिकता से लिया जावे । ऐसे तालाब जो पूर्व वर्ष में स्वीकृत है एवं कार्य अधूरा है उन कार्यो को प्राथमिकता के आधार पर जनवरी-फरवरी 2019 तक पूर्ण कर लिये जावे अन्यथा संबंधित जिम्मेदार कर्मचारी के विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही की चेतावनी दी गई। बैठक में बी.सी. आवास को निर्देषित किया गया कि प्रतिदिन फिल्ड का निरीक्षण करें स्थल पर आ रही समस्याओं का त्वरित निराकरण करें एवं कार्य की प्रगति रिपोर्ट वाटसएप में भेजी जावे अन्यथा संबंधित के खिलाफ अनुषानात्मक कार्यवाही की जावेगी । कलेक्टर के निर्देषानुसार ग्राम पंचायतों में स्कूल भवन, आगनवाड़ी भवनो में पोताई, पेंटिग, टुटफुट मरम्मत कार्य, छत टपकना एवं शौचालय निर्माण, साफ-सफाई आदि ऐसे कार्य को शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिये गये । जिन ग्राम पंचायतों में जीपीडीपी फिडींग कार्य शेष है उन्हें 30 नवम्बर 2019 तक पूर्ण करने के निर्देष दिये गये । जिन पंचायत में फिडिंग कार्य नहीं होता है उन पंचायत सचिव के खिलाफ प्रतिदिन के हिसाब से फाइन एवं वेतन काटने के निर्देष दिये गये । समस्त उपयंत्रियों को निर्देषित किया गया कि ग्राम पंचायतों में चल सभी निर्माण कार्यो जैसे सांसद/विधायक निधि  कार्य, सी.सी. रोड, पंचायत भवन, आगनवाड़ी, भवन, पीएम आवास, स्कूल भवन आदि कार्यो को तकनीकी मार्गदर्षन पर कराये।

Post a Comment

0 Comments