अयोध्या प्रकरण के फैसले को लेकर प्रशासन रहा मुस्तेद | Ayodhya prakran ke faisle ko lekar prashasan rha musted

अयोध्या प्रकरण के फैसले को लेकर प्रशासन रहा मुस्तेद

सभी समाजो के प्रमुखो ने सुप्रीम कोर्ट के फेसले का स्वागत कर स्विकार किया

अयोध्या प्रकरण के फैसले को लेकर प्रशासन रहा मुस्तेद

आलीराजपुर (रफीक क़ुरैशी) - अयोध्या प्रकरण के संबंध में सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर जिला प्रशासन पुरी तरह से मुस्तेद रहा। सुरक्षा की द्रष्टि से प्रशासन ने जिलेभर में सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किए थे। जिले में धारा 144 के प्रतिबंधात्मक आदेश जारी रहने के साथ-साथ एहतियातन नगर के प्रमुख चोराहो एवं धार्मिक स्थलो और ग्रामीण क्षेंत्रों में सुरक्षा बलों की तैनाती की गई है। कोर्ट का फेसला आने के बाद अलीराजपुर जिले में शांतिपूर्ण एवं सोहाद्धपुर्ण वातावरण बना रहा। फेसला आने के बाद दोनो समुदाय के लोग सोहाद्धपुर्ण वातावरण मे आपसी बातचीत करते हुए नजर आए। जिला मुख्यालय सहित आसपास के शहरो के सभी समाज के प्रमुखजनो ने सुप्रीम कोर्ट के फेसले को स्वीकार कर उसका स्वागत किया। जिला मुख्यालय मे सामान्य दिनों के अनुसार बाजारो मे चहल-पहल रही। गोरतलब हे कि अलीराजपुर शहर शांती के टापु के रुप मे प्रदेशभर मे जाना पहचाना जाता है। यहा पर दोनो समुदाय के लोग आपसी सामंजस्य एवं सामाजिक सदभावना तथा सोहार्द्धपुर्ण वातावरण विचारधारा मे अधिक विश्वास रखते हे।

अयोध्या प्रकरण के फैसले को लेकर प्रशासन रहा मुस्तेद

जिलेभर में रहे सुरक्षा के कडे प्रबंध

शनिवार को अयोध्या प्रकरण के फेसले को लेकर कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी सुरभि गुप्ता एवं पुलिस अधीक्षक विपुल श्रीवास्तव ने सुबह से जिलेभर में कानून व्यवस्था की स्थिति पर नजर रखी। कलेक्टर श्रीमती गुप्ता एवं एसपी श्रीवास्तव ने संयुक्त रूप से नगर के विभिन्न मार्गों का भ्रमण करते हुए कानून व्यवस्था और सुरक्षा प्रबंधों की स्थिति का जायजा लिया। उन्होंने नानपुर पहुंचकर वहां भी सुरक्षा प्रबंधों को देखा। जिलेभर में शांति और सदभाव के साथ-साथ कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुख्ता सुरक्षा प्रबंध किये गए है। साथ ही प्रशासन ने नगर मे फ्लेग मार्च निकालकर आमजनो को अपनी उपस्थिति का एहसास भी कराया। अपर कलेक्टर सुरेशचन्द्र वर्मा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सीमा अलावा, समस्त अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, एसडीओपी, सहित तहसीलदार, थाना प्रभारी, नायब तहसीलदार, चोकीदार और अन्य अमला सौपें गए दायित्वों के तहत सुबह से विभिन्न स्थानों पर निरीक्षण और भ्रमण पर कानून व्यवस्था बनाए रखने में लगे रहे। कलेक्टर श्रीमती गुप्ता एवं पुलिस अधीक्षक श्रीवास्तव ने बताया जिलेभर में शांति, सदभाव बना रहे इसके लिए सोषल मीडिया पर पैनी नजर रखी जा रही है। माननीय न्यायालय के फैसले के मद्देनजर शनिवार को जिले के समस्त आंगनवाडी, शासकीय, निजी स्कूलों, महाविद्यालयों में अवकाष के आदेष कलेक्टर श्रीमती गुप्ता ने जारी किया था।कलेक्टर श्रीमती गुप्ता ने जिले में शांति और सौहार्द तथा कानून व्यवस्था की दृष्टि से विभिन्न अधिकारियों को विषेष कार्यपालिक मजिस्ट्रेट नियुक्त करने के आदेश जारी किए है। उक्त आदेष दिनांक 9 नवंबर 2019 से 11 नवंबर 2019 तक के प्रभावषील रहेगा। वहि कलेक्टर श्रीमती गुप्ता ने समस्त अधिकारियों और कर्मचारियों के अवकाश पर आगामी निर्देष तक प्रतिबंध लगा दिया है। उन्होंने बगैर उनकी इजाजत के कोई भी अधिकारी मुख्यालय नहीं छोडने के निर्देष जारी किए है। कलेक्टर श्रीमती गुप्ता ने जिलेवासियों से शांति, सदभाव और भाई चारा बनाए रखने का आह्वान किया है।

Post a Comment

0 Comments