प्रदेश महासचिव विश्वराज सिंह करेंगे बाढ़ पीड़ित क्षेत्रों का दौरा | Pradesh mahasachiv vishvraj singh karenge baad pidit kshetro ka doura

प्रदेश महासचिव विश्वराज सिंह करेंगे बाढ़ पीड़ित क्षेत्रों का दौरा

प्रदेश महासचिव विश्वराज सिंह करेंगे बाढ़ पीड़ित क्षेत्रों का दौरा

मुरैना (संजय दीक्षित) - जिले में बाढ़ पीड़ितों की सहायता के लिए अभी तात्कालिक कार्य जो किए गए हैं उससे उनकी आवश्यकता की पूर्ति नहीं की गई है। अभी भी लोग घर से बेघर हैं और खेती के लिए किसानी भी वंचित हो चुके हैं। तंबू में रहने वालों को कोई सुविधा मुहैया नहीं कराई जा रही है इस बात के लिए युवक कांग्रेस समूचे अंचल का दौरा करेगी और बाढ़ पीड़ितों के बीच उनकी आवश्यकताओं को देखकर उनकी सहायता के लिए जो उन्हें उचित मुआवजा मिल सके इस बात के लिए कलेक्टर , मुख्यमंत्री और ज्योतिराज सिंधिया से भी बात की जाएगी कि बाढ़ से पीड़ित लोगों को उचित मुआवजा मिल सके ।यह बात युवा कांग्रेस के नवनियुक्त प्रदेश महासचिव कुंवर विश्वराज सिंह ने धर्म इन होटल में मीडिया से रूबरू होकर कहीं। उन्होंने कहा कि हम आप लोगों से भी बाढ़ पीड़ितों की मदद के संबंध में भी कुछ जानकारी लेना चाहते हैं। इस संबंध में मीडिया के लोगों ने स्पष्ट किया कि 10,000 की सहायता राशि कुछ लोगों को मिल चुकी है कुछ लोग आज भी इन सहायता राशियों से वंचित हैं और बुरी तरह पीड़ित है। वहां पर यह बात भी आज सामने आयी कि मेडिकल एसोसिएशन ने कुछ दिन पूर्व एक शिविर आयोजित किया था जिसमें 1500 लोगों के पंजीयन में 1200 लोग बीमारी से पीड़ित मिले। उनको चर्म रोग की शिकायत बताई गई हैं। इससे स्पष्ट  हुआ कि बाढ़ पीड़ित क्षेत्र में भारी संक्रामक रोग फैलने की आशंका है। चर्म रोग और मलेरिया, डेंगू जैसे भयानक बीमारियां इन इलाकों में फैल सकती है। इस बात पर विश्वराज सिंह ने कहा कि हम दो अपने साथियों को प्रत्येक बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में लेकर जाएंगे और खुद सर्वे करेंगे ।में अभी तक किए हुए सर्वे से  संतुष्टि नहीं हूँ अब सर्वे करने के बाद उसकी विस्तृत जानकारी मुख्यमंत्री को सौंपेंगे। इस अवसर पर मीडिया के सुझाव के मुताबिक बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में एक चिकित्सा बैन की आवश्यकता महसूस की जा रही है। जिसे तत्काल संचालित किया जाना चाहिए। लोगों का यह भी मानना था कि यदि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों को तत्काल सहायता नहीं दी गई तो उनकी काली दिवाली बनेगी ।वह अपने घर में दिवाली नहीं बना पाएंगे इसलिए केंद्र और राज्य की सरकारों को तत्काल समुचित व्यवस्था का प्रबंध करना चाहिए। इस अवसर पर विश्वराज सिंह ने एक नई बात रखी  उन्होंने कहा कि समाज में छोटे बच्चों से लेकर बड़े तक नशे की लत में डूबे हुए हैं। उन्हें  नशे से मुक्त करने के लिए हम एक अभियान चलाना चाहते हैं जिससे की हमारे युवा साथी इन बुरी आदतों से बच सकें।

Post a Comment

0 Comments