झाबुआ के राजा की महाआरती में शामिल हुए जनसंपर्क मंत्री पिसी शर्मा | Jhabua ke raja ki mahaarti main shamil hue jansampark mantri

जिले के वरिष्ठ समाजसेवी एवं उद्योगपति बृजेन्द्र चून्नू शर्मा एवं राजवाड़ा मित्र मंडल ने की झाबुआ के राजा की महाआरती, मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा

झाबुआ के राजा की महाआरती में शामिल हुए जनसंपर्क मंत्री पिसी शर्मा

झाबुआ (अली असगर बोहरा) - 10 दिवसीय गणेशोत्सव पर्व के तहत शहर के कस्तूरबा मार्ग में झाबुआ के राजा (सबसे बड़ी गणेशजी की प्रतिमा) विराजमान है। जिनकी आरती करने का लाभ प्रतिदिन अलग-अलग लाभार्थियों द्वारा लिया जा रहा है। 10 सिंतबर, मंगलवार रात बाप्पा की महाआरती का लाभ जिले के वरिष्ठ समाजेसवी एवं उद्योगपति बृजेन्द्र चून्नू शर्मा तथा राजवाड़ा मित्र मंडल ने लिया। इस दौरान मुख्य अतिथि के रूप में मप्र शासन के जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने भी शामिल होकर झाबुआ के राजा की महाआरती की।

झाबुआ के राजा की महाआरती में शामिल हुए जनसंपर्क मंत्री पिसी शर्मा

महाआरती मंगलवार रात 9 बजे से आरंभ हुई। जिसमें राजवाड़ा मित्र मंडल के संरक्षक बृजेन्द्र चून्नू शर्मा समाजसेवी के साथ लाखनसिंह सोलंकी, पंकज चौहान, पप्पू कटकानी, शंषाक संघवी, अंकुष कांठी, भावेश सोलंकी, जितेन्द पटेल, अभिमन्यूसिंह, हेमेन्द्र पटेल आदि ने महाआरती करने का लाभ लिया। इसी बीच मप्र शासन के जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा के साथ पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं पूर्व सांसद कांतिलाल भूरिया, जिला युवक कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. विक्रांत भूरिया, जिला कांग्रेस अध्यक्ष निर्मल मेहता, नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमती मन्नूबेन डोडियार, वरिष्ठ कांग्रेस नेता प्रकाष रांका, रमेष डोषी, आषीष भूरिया, विरेन्द्र मोदी, जिला कांग्रेस प्रवक्ता हर्ष भट्ट आदि ने भी पहुंचकर महाआरती की।

लाल बाग के राजा की तरह झाबुआ के राजा

बाद जनसंपर्क मंत्री श्री शर्मा ने अपने संक्षिप्त उद्बोधन में कहा कि जिस तरह से मुंबई में लाल बाग के राजा प्रसिद्ध है, उसी तरह झाबुआ में झाबुआ के राजा की प्रसिद्धी है। मुझे झाबुआ की राजा की आरती कर अत्यंत सुकुन मिला। पूर्व्र सांसद कांतिलाल भूरिया ने कहा कि जेकेआर ग्रुप प्रतिवर्ष गणेषोत्सव के दौरान शहर की सबसे बड़ी गणेषजी की प्रतिमा (झाबुआ के राजा) की स्थापना करता है। जिसमें पूरे शहर के श्रद्धालुजन दर्षन के लिए आते है, इसके लिए जेकेआर ग्रुप बधाई का पात्र है।

महाप्रसादी का हुआ वितरण

महाआरती में सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालुजन शामिल हुए। महाआरती बाद महाप्रसादी में सभी श्रद्धालुओं को पोहे, आलूबड़ा और लड्डूओ का वितरण किया गया। इस दौरान सभी ने सामूहिक रूप से झाबुआ के राजा के जयकारे भी लगाए। आयोजन को सफल बनाने में जेकेआर ग्रुप से जुड़े सभी सदस्यों का सराहनीय सहयोग रहा।

Post a Comment

0 Comments