जनसुनवाई में सुनी गई जनता की समस्या, 119 आवेदकों ने दिये आवेदन | Jansunvai main suni gai janta ki samasya

जनसुनवाई में सुनी गई जनता की समस्या, 119 आवेदकों ने दिये आवेदन

जनसुनवाई में सुनी गई जनता की समस्या, 119 आवेदकों ने दिये आवेदन

बालाघाट (टोपराम पटले) - प्रत्येक मंगलवार को होने वाली जनसुनवाई की कड़ी में आज 17 सितम्बर 2019 को कलेक्ट्रेट में जनसुनवाई का आयोजन किया गया था। इसमें कलेक्टर अपर कलेक्टर श्री शिवगोविंद मरकाम ने अन्य विभागों के अधिकारियों के साथ आवेदकों की समस्याओं को सुना और संबंधित विभागों के अधिकारियों को आवेदकों के आवेदनों पर त्वरित कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये। जनसुनवाई में कुल 119 आवेदन प्राप्त हुये है।
जनसुनवाई में वारासिवनी तहसील के ग्राम खापा के ग्रामीण ग्राम केअंदर संचालित कुशल वेयर हाउस एवं कल्पतरू वेयर हाउस को बंद करने की मांग लेकर आये थे। ग्रामीणों का कहना था कि इन वेयर हाउस में रखे चावल से एक विशेष प्रकार के कीट गांव में फैल रहे है और ग्रामीणों का जीना दूभर हो रहा है। इन वेयर हाउस के कारण गांव में कीचड़ होता है और बच्चों को स्कूल जाने में परेशानी हो रही है। अत: इन्हें शीघ्र बंद कराया जाये। 
जनसुनवाई में सुनी गई जनता की समस्या, 119 आवेदकों ने दिये आवेदन

बालाघाट विकासखंड के ग्राम बटुआ के ग्रामीण शिकायत लेकर आये थे कि उनके द्वारा माह दिसम्बर 2017 से अप्रैल 2018 के बीच मिथ्थु बरमैया के आवास निर्माण में 48 दिनों तक काम किया गया है। लेकिन रोजगार सहायक आनंद बघेले द्वारा उनकी 97 हजार रुपये की मजदूरी का अब तक भुगतान नहीं किया गया है। अत: उन्हें पंचायत से मजदूरी का शीघ्र भुगतान कराया जाये। बालाघाट विकासखंड के ग्राम लिंगा के जबकार्ड धारक शिकायत लेकर आये थे कि उनके द्वारा मनरेगा के अंतर्गत माह मई 2019 में  नाला सफाई एवं ग्राम की नाली सफाई का काम किया गया है। लेकिन 4 माह बाद भी ग्राम पंचायत से उन्हें मजदूरी का शीघ्र भुगतान कराया जाये। 
जनसुनवाई में बालाघाट विकासखंड के ग्राम बटुआ की सुहागा बाई शिकायत लेकर आयी थी कि तीन वर्ष पहले उसे प्रधानमंत्री आवास योजना में आवास स्वीकृत किया गया था। आवास का निर्माण कार्य सरपंच पति हनुमान बंशकार द्वारा कराया गया है। लेकिल मकान बनते ही हनुमान बंशकार ने उसके मकान पर कब्जा कर लिया है उसमें पान गुटका का व्यवसाय कर रहा है। मकान खाली करने कहने पर वह 50 हजार रुपये की मांग कर रहा है। अत: उसे शासन की योजना के अंतर्गत निर्मित मकान का कब्जा दिलाया जाये। 
लालबर्रा विकासखंड के ग्राम पंचायत मोहगांव( बोरी) के ग्रामीण शिकायत लेकर आये थे कि पंचायत के तत्कालीन सरपंच, सचिव सुरेन्द्र भंडारकर एवं ग्राम रोजगार सहायक योगेश मेश्राम द्वारा वार्ड क्रमांक-01 से 12 तक मुरमीकरण में फर्जीवाड़ा किया गया है और जांच में 62 हजार 554 रुपये का अधिक भुगतान होना पाया गया है। अत: पंचायत के तत्कालीन सरपंच, सचिव एवं ग्राम रोजगार सहायक से 62 हजार 554 रुपये की वसूली कर उनके विरूद्ध पंचायत राज अधिनियम के तहत कार्यवाही की जाये। 
वारासिवनी तहसील के ग्राम पिपरिया का निवासी दिलीप लिल्हारे शिकायत लेकर आया था कि वितरण केन्द्र कोचेवाही से उसे माह अगस्त 2019 का 3121 रुपये का बिजली बिल दिया गया है। जो कि खपत के अनुसार सही नहीं है। अत: उसका बिजली बिल कम कराया जाये। 
जनसुनवाई में उकवा के ग्रामीण शिकायत लेकर आये थे कि उनके गांव में आदर्श शिक्षा समिति द्वारा संचालित वीणा सागर प्राथमिक व माध्यमिक शाला के संचालक गुलाब ठाकरे द्वारा शासन की योजना शिक्षा का अधिकार अधिनियम के अंतर्गत शाला में प्रवेशित 25 प्रतिशत गरीब बच्चों को प्रताड़ित किया जा रहा है और उन्हें शाला से निष्कासित किया जा रहा है। संस्था के संचालक द्वारा इन गरीब बच्चों के अभिभावकों के साथ भेदभावपूर्ण व्यवहार किया जाता है। संस्था के संचालक द्वारा छात्र सुनील धुर्वे, शिवराम झारिया, संजय झारिया, राजा झारिया, मजिद रिजवी को शाला से निष्कासित कर दिया गया है। अत: संस्था के संचालक के विरूद्ध कार्यवाही की जाये और उसकी मान्यता निरस्त की जाये। 
 
शासकीय माध्यमिक शाला दुरेन्दा के अतिथि शिक्षक मुरलीधर रोकड़े शिकायत लेकर आये थे कि पालक शिक्षक संघ द्वारा उसका अतिथि शिक्षक के लिए चयन किया गया है। लेकिन उसे पिछले दो माह से मानदेय का भुगतान नहीं मिला है। अत: उसे मानदेय का भुगतान कर उसकी सेवाओं को शाला में यथावत रखा जाये। इसी प्रकार आयुषी पटले शिकायत लेकर आयी थी कि वह शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला कुम्हारी में अतिथि शिक्षक के पद पर अपनी सेवायें दे रही है। लेकिन पोर्टल पर तकनीक विसंगती के कारण उसका नाम दर्ज नहीं हो रहा है। जिसके कारण प्राचार्य द्वारा उसे चेतावनी दी गई है कि शाला से उसके मानदेय का भुगतान नहीं हो सकेगा। अत: पोर्टल पर उसका नाम चढ़ाया जाये और उसे शाला में अतिथि शिक्षक के पद पर यथावत रखा जाये। 
जनसुनवाई में लांजी तहसील के ग्राम कटंगी का मूलचंद बेलघैया शिकायत लेकर आया था कि उसने अपने घर पर शौचालय बना लिया है। ग्राम रोजगार सहायक द्वारा उसके शौचालय की 5 बार फोटो खिंच कर ले जायी गई है। लेकिन उसे अब तक शौचालय की 12 हजार रुपये की राशि नहीं मिली है। अत: उसे शौचालय की राशि का शीघ्र भुगतान किया जाये। इसी प्रकार बालाघाट विकासखंड के ग्राम सकरी की कौतिका ठाकरे भी शिकायत लेकर आयी थी कि उसने अपने घर पर दो वर्ष पूर्व ही शौचालय बना लिया है। उसे शौचालय की मात्र 3 हजार रुपये की राशि मिली है और शेष 9 हजार रुपये की राशि अब तक नहीं मिली है। शेष राशि के भुगतान के लिए सरपंच सचिव द्वारा उससे एक हजार रुपये की मांग की जा रही है। बालाघाट विकासखंड के ग्राम धापेवाड़ा की सुंदर बाई भी शौचालय की राशि नहीं मिलने की शिकायत लेकर आयी थी।

Comments

Popular posts from this blog

कलेक्टर दीपक सक्सेना का नवाचार जो किताबें मेले में उपलब्ध वही चलेगी स्कूलों में me Aajtak24 News

पुलिस ने 48 घंटे में पन्ना होटल संचालक के बेटे की हत्या करने वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार girafatar Aaj Tak 24 News

कुल देवी देवताओं के प्रताप से होती है गांव की समृद्धि smradhi Aajtak24 News